लंदन हमला: सऊदी फ़ुटबॉल टीम ने नहीं रखा मौन

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption लंदन हमले में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देती ऑस्ट्रेलियाई टीम

सऊदी अरब के फ़ुटबॉल प्रशासक ने उनकी टीम के लंदन के आतंकी हमले में मारे गए लोगों के लिए रखे गए एक मिनट का मौन में शामिल नहीं होने पर माफ़ी मांगी है.

ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड में चल रहे फुटबॉल वर्ल्ड कप क्वालिफायर मैच के दौरान सऊदी अरब की फुटबॉल टीम ने लंदन आतंकी हमले में मारे गए लोगों के लिए एक मिनट का मौन रखने से मना कर दिया था जिसके बाद ऑस्ट्रेलियाई फुटबॉल प्रशंसकों ने इसे बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बताया.

फुटबॉल अधिकारियों ने कहा कि उन्हें पहले ही बता दिया गया था कि 'सऊदी संस्कृति में मौन नहीं रखा जाता है'.

ऑस्ट्रेलिया के एक सांसद ने इसे अपमानजनक बताया है.

सऊदी अरब: फुटबॉल और धर्म को लेकर जुबानी जंग

फुटबॉल प्रशंसकों ने भी कहा कि यह उन मृत लोगों के लिए बहुत ही अपमानजनक है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

फुटबॉल की विश्व संस्था फ़ीफ़ा ने कहा है कि सऊदी अरब की टीम के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी. फ़ीफ़ा ने कहा है कि उसने पूरे घटनाक्रम की समीक्षा की और पाया कि सऊदी टीम के ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का कोई आधार नहीं है.

लंदन हमला: 12 गिरफ्तार, इस्लामिक स्टेट ने ली जिम्मेदारी

बुधवार को सऊदी और मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम के बीच मैच हुआ था. अधिकारियों ने दोनों टीमों को पहले ही बता दिया था कि लंदन हमले में मारे गए लोगों के लिए एक मिनट का मौन रखा जाएगा. बता दें कि ऐसा इसलिए किया जा रहा था क्योंकि इस हमले में दो ऑस्ट्रेलियाई नागरिक की भी जान गई थी.

सऊदी अरब फुटबॉल फ़ेडरेशन ने शुक्रवार को इस घटना के लिए माफ़ी मांगी. फ़ेडरेशन ने एक बयान में कहा, "फ़ेडरेशन हर तरह के आतंकवाद और अतिवाद की निंदा करता है और ब्रिटेन सरकार और आतंकी हमले में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)