20 साल की ओस्तापेंको ने फ़्रेंच ओपन जीत रचा इतिहास

  • 10 जून 2017
इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption लातविया की बीस वर्षीय ओस्तापेंको ने फ्रेंच ओपन फ़ाइनल जीत लिया है.

इस साल फ्रेंच ओपन के महिला वर्ग के फ़ाइनल में लातविया की येलेना ओस्तापेंको ने रोमानिया की सिमोना हेलेप को हरा दिया है.

20 वर्षीय ओस्तापेंको फ्रेंच ओपन जीतने वाली पहली लातवियाई खिलाड़ी बन गई हैं.

मुकाबला जीतने के बाद मुस्कुराती हुई ओस्तापेंको ने कहा कि उनके पास शब्द नहीं है.

उन्होंने कहा, "मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि मैं 20 साल की उम्र में ही चैंपियन बन गई हूं. ये मेरा सपना था. मैं बहुत ख़ुश हूं. मैं आप सबको प्यार करती हूं. "

ओस्तापेंको का यह पहला ग्रैंड स्लैम था जिसमें उन्होंने खिताब जीत लिया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

वो ऐसी पहली गैर-वरीयता प्राप्त खिलाड़ी हैं जिन्होंने टूर्नामेंट का फ़ाइनल जीता है.

रोला गैरों में 8 जून 1997 को गुस्तावो कु्र्टन ने अपने पहले ही टूर में ग्रैंड स्लैम जीता था.

47वीं रैंक की ओस्तापेंको ने पहला सेट गंवा दिया था और दूसरे सेट में वो एक समय 3-0 से पीछे चल रही थीं.

लेकिन 4-6 6-4 6-3 के स्कोर के साथ उन्होंने रौला गैरों में इतिहास रच दिया.

उनके सामने खेल रहीं सिमोना हेलेप दुनिया की तीसरे नंबर की खिलाड़ी हैं और यदि वो मुक़ाबला जीत जाती तो रैकिंग में शीर्ष पर पहुंच जातीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे