'भारत का चैम्पियंस ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में पहुँचना तय'

  • 15 जून 2017
कोहली इमेज कॉपीरइट Reuters

चैम्पियंस ट्रॉफी के दूसरे सेमी फ़ाइनल में गुरुवार को भारत का मुक़ाबला बांग्लादेश से है.

दोनों में से जो टीम ये सेमीफाइनल मैच जीतेगी, उसका मुकाबला फाइनल में पहुंची पाकिस्तानी टीम से होगा.

बांग्लादेश और भारत दोनों का ही इस टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन रहा है. ऐसे में आज के मैच में किसका पलड़ा भारी है, बीबीसी ने क्रिकेट विशेषज्ञों आकाश चोपड़ा और अयाज मेमन से जानी उनकी राय:

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा के मुताबिक़,

  • बांग्लादेश और भारत दोनों टीमें बेहतर हैं. बांग्लादेश को आप खारिज तो नहीं कर सकते.
  • मुझे लगता है कि अगर बांग्लादेश जीतता है तो ये अपवाद होगा. लेकिन आप क्रिकेट लॉजिक के हिसाब से बात करें और 'मैन टू मैन' तुलना करें तो दोनों टीमों में से भारत का पलड़ा बहुत ज्यादा भारी है.
  • बांग्लादेश की गेंदबाज़ी ठीक है. बहुत ज्यादा अच्छी नहीं है तो बहुत खराब भी नहीं है. बांग्लादेश की टीम बल्लेबाज़ी अच्छी कर रही है. शमीम इकबाल की फॉर्म ठीक है. महमूदल्लाह ने शतक जड़ा है.
  • बांग्लादेश की टीम निश्चित तौर पर अच्छा खेलेगी. लेकिन ऐसे बड़े नॉक आउट मैचों में जिस बैखौफ़ के साथ आपको खेलना होता है, डरना नहीं होता है. वो शायद बांग्लादेश की टीम में न हो.
  • 2015 के क्वार्टर फ़ाइनल में हमने बांग्लादेश के मैच में देखा था. वही शायद चैम्पियंस ट्रॉफी के मैच में देखने को मिला.
  • जब आपके दिमाग में ये रहता है कि आप एक ग़लती करेंगे और टूर्नामेंट से बाहर हो जाएंगे तो कई बार आपके हाथ में पसीना आ जाता है. मैं उस पसीने की बांग्लादेश से उम्मीद कर रहा हूं. भारत का फाइनल में पहुंचना मुझे तय लगता है.
इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption भारन बनाम बांग्लादेश प्रैक्टिस मैच

क्रिकेट एक्सपर्ट और पत्रकार अयाज मेमन के मुताबिक,

  • किसी ने ये सोचा नहीं होगा कि सेमी फ़ाइनल में भारत और बांग्लादेश का मुक़ाबला होगा. या पाकिस्तान भी सेमी फ़ाइनल तक पहुंचेगा. लेकिन इस टूर्नामेंट में कुछ ऐसे ही उलटफेर हुए हैं. कभी बारिश तो कभी कुछ दिग्गज टीमें बाहर हो गईं.
  • क्रिकेट के लिहाज़ से बात करें तो ये अच्छा है कि बांग्लादेश की टीम सेमीफाइनल तक पहुंची है, जिसे कोई भाव नहीं देता है और पाकिस्तान के मूड का कभी पता नहीं लगता कि वो मैदान में आकर कैसे खेलें.
  • ऐसे में पाकिस्तान का फ़ाइनल में पहुंचना अच्छा है. क्योंकि खेल के हिसाब से पाकिस्तान के क्रिकेट को ज़िंदा रखना बहुत ज़रूरी है. काफी वक्त से पाकिस्तान में कोई मैच नहीं हुए हैं. टीम अच्छा करेगी तो ये खेल के लिए बेहतर है.
  • भारत के सामने वैसे तो बांग्लादेश कम ही नज़र आता है. लेकिन क्रिकेट में खेल में दूसरी टीम को हल्के में नहीं लेना चाहिए. क्योंकि अगर वो सेमी फ़ाइनल तक आए हैं, तो उनमें बात तो है.
  • बांग्लादेश का खेल काफ़ी प्रभावी रहा है. ख़ासकर जिस तरह से टीम ने रिकवरी की है. अगर आप पेपर में देखें तो भारत का खेल काफ़ी प्रभावी रहा है. गेंदबाज़ी, बल्लेबाज़ी और फ़ील्डिंग अच्छी रही है. ऐसा लगता है कि जीतने की भूख है.

फाइनल में पाकिस्तान

भारतीय दर्शक भी पाकिस्तान को कर रहे थे सपोर्ट

25 साल बाद पाकिस्तान से हिसाब बराबर कर पाएगा इंग्लैंड

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे