ड्रेंसिग रूम की बात कभी बाहर नहीं कहेंगे कोहली

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption माना जा रहा है कि कुंबले ने कप्तान कोहली के साथ विवाद के बाद इस्तीफ़ा दिया है.

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और पूर्व भारतीय कोच अनिल कुंबले के बीच विवाद और बढ़ता दिख रहा है.

विराट कोहली ने अपना वो ट्वीट डिलीट कर दिया है जिसमें उन्होंने पूर्व भारतीय गेंदबाज़ अनिल कुंबले को भारतीय टीम का कोच बनाए जाने का स्वागत किया था.

23 जून 2016 को किए गए ट्वीट में विराट कोहली ने कुंबले का स्वागत करते हुए कहा था कि 'हम आपके साथ काम करने को लेकर आशावान हैं.'

लेकिन अब विराट कोहली की टाइमलाइन पर ये ट्वीट नहीं है.

'गुहा ने पहले ही कुंबले-कोहली मामले पर आगाह किया था'

भारतीय क्रिकेट टीम के कोच कुंबले का इस्तीफ़ा

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption अनिल कुंबले लंबे समय तक भारतीय टीम के प्रमुख गेंदबाज़ रहे हैं.

भारत के अहम गेंदबाज़ रहे अनिल कुंबले ने चैपियंस ट्राफ़ी में भारतीय टीम की पाकिस्तान के हाथों करारी हार के बाद अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया था.

मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि कुंबले की कप्तान विराट कोहली से नहीं बन पाई.

वहीं गुरुवार को पत्रकारों से बात करते हुए विराट कोहली ने कहा है कि वे ड्रेसिंग रूम में हुई बातचीत को कभी सार्वजनिक नहीं करेंगे.

कोहली ने कहा, "अनिल भाई ने अपने विचार रखे हैं और बाहर जाने का फ़ैसला लिया है, हम सब उस फ़ैसले का सम्मान करते हैं."

कप्तान को मेरे 'स्टाइल' पर आपत्ति थी, बोले कुंबले

'ये समय विराट कोहली का है, उसे एन्जॉय करने दो'

ड्रैसिंग रूम की निजता सबसे ऊपर

कोहली ने कहा, "ये घटनाक्रम टूर्नामेंट के बाद हुआ है. चैपियंस ट्राफ़ी के दौरान मैंने 11 प्रेस काफ्रेंस की हैं. हमने बीते तीन-चार साल में संस्कृति बनाई है कि जो भी ड्रेसिंग रूम में होता है वो वहीं रहता है."

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption कोहली ने कहा है कि वो ड्रैसिंग रूम की निजता को कभी भंग नहीं करेंगे.

विराट ने कहा, "हम ड्रेसिंग रूम की पवित्रता का सम्मान करते हैं और हमेशा उसे बरक़रार रखेंगे. वहां हुई कोई भी बात हम सार्वजनिक नहीं करेंगे."

अनिल कुंबले के बारे में विराट ने कहा, "एक क्रिकेटर के तौर पर और उन्होंने जो देश के लिए हासिल किया है, मैं उसका सम्मान करता हूं. हम सब उनका सम्मान करते हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे