विम्बलडन 2017: रोजर फ़ेडरर ने मारिन चिलिच को दी करारी शिकस्त

रोजर फेडरर इमेज कॉपीरइट Getty Images

विम्बलडन 2017 में स्विटज़रलैंड के रोजर फेडरर ने क्रोएशिया के मारिन चिलिच को 6-3, 6-1, 6-4 से करारी शिकस्त दी. पुरुष एकल विम्बलडन में रोजर फेडरर की यह आठवीं ख़िताबी जीत है.

विम्बलडन में घास के कोर्ट पर रविवार को स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर के जादू के आगे क्रोएशिया के मारिन चिलिच बेबस दिखाई दिए और फेरडर ने आठवीं बार विम्बलडन ख़िताब अपने नाम किया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

तीसरी वरीयता हासिल रोजर फेडरर ने मारिन चिलिच को 6-3, 6-1, 6-4 से मात दी. इससे पहले रोजर फेडरर ने साल 2012 में विम्बलडन ख़िताब जीता था.

इस जीत के साथ ही रोजर फेडरर ने अमरीका के पीट सम्प्रास के सात बार ख़िताब जीतने के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया.

फ़ेडरर के सामने मारिन चिलिच की चुनौती

आपके चहेते स्टार खिलाड़ी और उनके अनोखे टोटके

इमेज कॉपीरइट AFP

दूसरी तरफ साल 2014 में अमरीकी ओपन के रूप में एकमात्र ग्रैंड स्लैम जीतने वाले मारिन चिलिच से फ़ाइनल में रोज़र फेडरर को कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद थी.

लेकिन फेडरर की बेहतरीन सर्विस, रिटर्न और सही पूर्वानुमान के साथ लगाए गए शॉट्स के सामने चिलिच ठहर नहीं सके.

रोजर फेडरर के लिए विम्बलडन की अहमियत का अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है कि उन्होंने अपनी फिटनेस को बरक़रार रखने के लिए इस साल विम्बलडन से पहले होने वाले फ्रेंच ओपन में हिस्सा नहीं लिया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

फ़ेडरर 11वीं बार विम्बलडन के फ़ाइनल में पहुंचने में कामयाब हुए थे. उन्होंने आख़िरी बार 2012 में यह ख़िताब अपने नाम किया था.

फ़ेडरर विम्बलडन फ़ाइनल खेलने वाले दूसरे सबसे उम्रदराज़ खिलाड़ी भी बन गए हैं. उनसे आगे केन रोसवैल हैं जिन्होने 1974 में 39 वर्ष की उम्र में विम्बलडन फ़ाइनल खेला था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे