हरमनप्रीत कौर के पिता ने कहा- बेटी ने लड़कों के साथ क्रिकेट खेलना शुरू किया था

हरमनप्रीत कौर इमेज कॉपीरइट Getty Images

आईसीसी महिला क्रिकेट वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइनल मुक़ाबले में भारतीय टीम की शानदार जीत की बुनियाद हरमनप्रीत कौर ने रखी.

टीम की जीत और हरमनप्रीत के शानदार प्रदर्शन पर उनके पिता हरमिंदर सिंह भुल्लर ने खुशी जाहिर की.

पंजाब के मोगा में पैदा हुई हरमनप्रीत कौर ने गुरुवार को ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ धमाकेदार पारी 171 रनों की धमाकेदार पारी खेलकर खेलप्रेमियों का दिल जीत लिया.

बीबीसी से बातचीत में हरमनप्रीत के पिता ने बताया कि उनकी बेटी ने लड़कों के साथ क्रिकेट खेलना शुरू किया था.

उन्होंने कहा, "वह मेरे साथ ग्राउंड जाती थी खेलने के लिए. वहां कोई लड़की नहीं आती थी. वह लड़कों के साथ खेलती थी.'

हरमनप्रीत कौर के पिता ने बेटी के प्रदर्शन पर कहा, "देख के बहुत अच्छा लगा. परमात्मा से दुआ करूंगा कि वह आगे भी नाम रोशन करती रहे."

आख़िर कौन हैं हरमनप्रीत कौर

महिला क्रिकेट: ऑस्ट्रेलिया पर भारत की शानदार जीत

इमेज कॉपीरइट Twitter/ImHarmanpreet

2009 में पहला वनडे

ऑस्ट्रेलिया जैसी मज़बूत टीम के ख़िलाफ खेलते हुए हरमनप्रीत ने महज 115 गेंदों पर नाबाद 171 रनों की पारी खेली. इस दौरान उन्होंने 20 चौके और 7 छक्के भी जड़े.

हरमनप्रीत ने 12 चौके और दो छक्के की मदद से 90 गेंदों में शतक लगाया. यह उनका तीसरा एक दिवसीय शतक है. इसके साथ ही यह महिला एक दिवसीय क्रिकेट का पांचवा सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर भी है.

हरमनप्रीत कौर ने अपना पहला वनडे 2009 में खेला. 2013 में इंग्लैंड के ख़िलाफ वर्ल्ड कप मैच में शतक जड़ अपनी काबिलियत दिखाई थी.

इसके पहले सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए टीम इंडिया का मुक़ाबला न्यूजीलैंड से था। इस मैच में भी हरमनप्रीत ने 60 रन की शानदार पारी खेली थी.

'वो सहवाग और विराट की तरह नहीं खेलती'

आपके चहेते स्टार खिलाड़ी और उनके अनोखे टोटके

इमेज कॉपीरइट Twitter/ImHarmanpreet

फ़ाइनल

सेमीफ़ाइनल मुक़ाबले में सबकी नज़रें हरमनप्रीत की बल्लेबाजी पर टिकी थीं. सबको उनके बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी.

फ़ाइनल में अब भारत का मुक़ाबला रविवार को लॉर्ड्स में इंग्लैंड से होगा. महिला क्रिकेट के विश्वकप के फ़ाइनल में भारत दूसरी बार पहुंचा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे