गॉल टेस्ट: धवन-पुजारा का धमाल, पहले दिन के खेल की 10 ख़ास बातें

इमेज कॉपीरइट Reuters

गॉल टेस्ट के पहला दिन शिखर धवन और चेतेश्वर पुजारा के नाम रहा. इन दोनों बल्लेबाज़ों के शतकों की बदौलत टीम इंडिया ने पहले पहले दिन का खेल ख़त्म होने तक तीन विकेट पर 399 रन बना लिए हैं.

पहले दिन के खेल में भारतीय पारी की ख़ास बातें-

1. गॉल टेस्ट के पहले दिन भारत ने दिन का खेल ख़त्म होने तक तीन विकेट पर 399 रन बनाए. ये टेस्ट के पहले दिन के खेल में भारत का दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है. इससे पहले 2009-10 में श्रीलंका के ख़िलाफ़ भी कानपुर में भारत ने पहले दिन दो विकेट पर 417 रन बनाए थे. हालांकि श्रीलंका में ये किसी टेस्ट के पहले दिन किसी मेहमान टीम का सबसे बड़ा स्कोर है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

2. भारत के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज़ शिखर धवन ने 190 रनों की पारी खेली. टेस्ट क्रिकेट में ये उनका सबसे बड़ा स्कोर है. अपनी इस पारी में उन्होंने 168 गेंदों का सामना किया और 31 चौके जमाए. हालांकि वे अपने करियर का पहला दोहरा शतक पूरा नहीं कर पाए.

3. शिखर धवन की इस पारी की ख़ास बात ये भी रही कि उन्होंने लंच से चाय तक के एक सेशन में 90 गेंदों पर 126 रन ठोके. लंच से चाय तक के सेशन में ये किसी भी भारतीय बल्लेबाज़ का सबसे बड़ा स्कोर है. धवन ने अप्रैल 1962 में पोर्ट ऑफ़ स्पेन में पॉली उमीरगर को 110 रनों के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा. हालांकि दिन के एक सेशन में सबसे ज़्यादा रन का भारतीय रिकॉर्ड वीरेंद्र सहवाग के नाम है, 2009 में उन्होंने ब्रेबॉर्न स्टेडियम में श्रीलंका के ख़िलाफ़ चाय के बाद वाले सत्र में 133 रन ठोक दिए थे.

4. शिखर धवन ने अपने करियर के 24वें टेस्ट मैच में पांचवा शतक जमाया है. ख़ास बात ये है कि धवन ने 11 टेस्ट मैचों के बाद टेस्ट टीम में अपनी वापसी की है. उन्हें मुरली विजय और के एल राहुल के अनफ़िट होने के चलते यहां मौका मिला और इस मौके का उन्होंने पूरा फ़ायदा उठाया.

इमेज कॉपीरइट Reuters

5. चेतेश्वर पुजारा ने इस टेस्ट में एक बार फिर साबित किया कि क्यों उन्हें टीम इंडिया की दीवार कहा जाता है. पुजारा ने 200 गेंद पर 150 रनों की नाबाद पारी खेली.

6. पुजारा ने 49वें टेस्ट मैच में अपने करियर का 12वां टेस्ट शतक जमाया. वैसे ये श्रीलंका के ख़िलाफ़ उनका दूसरा शतक है.

7. शिखर धवन और चेतेश्वर पुजारा ने दूसरे विकेट के लिए 253 रनों की साझेदारी निभाई.

8. भारत की ओर से इस टेस्ट में शिखर धवन और अभिनव मुकुंद की जोड़ी सलामी जोड़ी के तौर पर क्रीज़ पर उतरी. भारतीय टेस्ट इतिहास में ये भारत की 152वीं सलामी जोड़ी है.

9.भारत की ओर से टेस्ट में ये तीसरा मौका देखने को मिला जब दोनों सलामी बल्लेबाज़ बाएं हाथ के थे. 2005 में गौतम गंभीर और इरफ़ान पठान ये भूमिका निभा चुके थे जबकि 2011 में गौतम गंभीर और अभिनव मुकुंद ये भूमिका निभा चुके थे.

इमेज कॉपीरइट AFP/Getty Images

10. भारत की ओर से हार्दिक पांड्या इस मैच में अपना डेब्यू कर रहे हैं. वे भारत के 289वें टेस्ट खिलाड़ी बन गए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे