विंबलडन में नहीं खेलेंगे चैम्पियन नडाल

दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी स्पेन के रफ़ाएल नडाल इस साल विंबलडन में नहीं खेलेंगे. मौजूदा चैम्पियन नडाल घुटने की चोट के कारण परेशान हैं.

Image caption नडाल घुटने की चोट से परेशान हैं

गुरुवार और शुक्रवार को प्रदर्शनी मैच खेलकर नडाल ने अपने को जाँचा-परखा, लेकिन वे संतुष्ट नहीं हुए और उन्होंने विंबलडन में न खेलने का फ़ैसला किया.

पत्रकारों के साथ बातचीत में उन्होंने कहा, "विंबलडन न खेलना मेरे करियर का सबसे कड़ा फ़ैसला था. पिछले कुछ महीनों से मैं घुटने की चोट के साथ खेल रहा था. क्योंकि मैं ये सोचता था कि मुझे कोशिश करनी चाहिए. आप नहीं जानते कि आपकी सीमाएँ क्या हैं. लेकिन अब मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रहा."

हालाँकि नडाल ने स्पष्ट किया कि उनकी चोट ऐसी नहीं है, जिससे उनके करियर पर कोई ख़तरा है. उन्होंने उम्मीद जताई कि वे निश्चित रूप से इस चोट से उबर जाएँगे.

कोशिश

उन्होंने कहा, "मैं पूरी मेहनत करूँगा कि मैं वापसी करूँ और जब मैं वापसी करूँ तो मैं 100 प्रतिशत सोच के साथ वापसी करूँगा. क्योंकि अभी मैं खेलता हूँ तो मैं अपने घुटने के बारे में ज़्यादा सोचता हूँ. मैं अभी सिर्फ़ 23 साल का हूँ. मुझे उम्मीद है कि मेरा करियर लंबा रहेगा और अगले साल मैं विंबलडन खेलने ज़रूर आऊँगा. मुझे यह फ़ैसला लेने में काफ़ी निराशा हुई है लेकिन लोगों को ये समझना चाहिए कि मैंने अपनी ओर से पूरी कोशिश की."

नंबर एक खिलाड़ी रफ़ाएल नडाल को इस साल विंबलडन में शीर्ष वरीयता मिली हुई थी. सोमवार को उनका पहला मैच अर्नॉड क्लीमे के साथ था.

चार बार फ़्रेंच ओपन चैम्पियन रफ़ाएल नडाल ने पिछले साल स्विट्ज़रलैंड के रोजर फ़ेडरर को एक मैराथन मैच में हारकर पहली बार विंबलडन का ख़िताब जीता था.

इस साल नडाल फ्रेंच ओपन के फ़ाइनल में भी नहीं पहुँच पाए थे. इस बार ये ख़िताब रोजर फ़ेडरर ने जीता, तो इससे पहले कभी भी फ़्रेंच ओपन नहीं जीत पाए थे.

वर्ष 2002 में गोरान इवानसेविच के बाद रफ़ाएल नडाल पहले ऐसे खिलाड़ी हैं, जो विंबलडन में अपने ख़िताब की रक्षा करने नहीं उतरेगा.

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है