शूमाकर अब नहीं करेंगे वापसी

सात बार फ़ॉर्मूला वन चैंपियन रह चुके माइकल शूमाकर ने गर्दन में चोट के कारण फ़ेरारी के साथ रेसिंग में वापसी करने का फ़ैसला बदल दिया है.

40 वर्षीय शूमाकर ने 2006 में संन्यास ले लिया था लेकिन फ़िलिपे मासा के घायल होने के कारण वे 23 अगस्त को यूरोपीयन ग्राँ प्री में फ़ेरारी के लिए खेलने को राज़ी हो गए थे. पर अब उन्होंने कहा है कि वे वापसी नहीं कर पाएँगे.

फ़रवरी में हुई एक दर्घटना में शूमाकर की गर्दन में चोट आई थी.

शूमाकर ने अपनी वेबसाइट पर कहा है, "दुर्भाग्यवश गर्दन में हो रहे दर्द को दूर करने में हम सफल नहीं रहे. फ़रवरी में हुई दुर्घटना, गर्दन और सर में हुआ फ़्रैक्चर...इन सब के कारण दर्द बहुत ज़्यादा है. फ़ॉर्मूला वन के दौरान जिस तरह की चुनौतियों से गुज़रना पड़ता है उन्हें सहने की क्षमता अभी गर्दन में नहीं है. सोमवार को परीक्षण में यही नतीजा सामने आया."

उन्होंने कहा है कि हालत में सुधार न होने के कारण सोमवार को अंतिम परीक्षण करवाने का फ़ैसला लिया गया था.

फ़ेरारी के साथ शूमाकर ने पाँच बार चैंपियनशिप जीती है और उनके साथ सलाहकार का काम कर रहे थे. हंगेरियन ग्राँ प्री में मासा बुरी तरह घायल हो गए थे और उनकी जगह शूमाकर ने मैदान में उतरने का फ़ैसला किया था.

शूमाकर ने 250 ग्राँ प्री में से 91 जीते हैं. दोबारा न खेल पाने पर शूमाकर ने कहा, "मैं बहुत निराश हूँ. फ़ेरारी के साथियों से मैं माफ़ी माँगता हूँ और अपने प्रशंसकों से भी."

शूमाकर ने इससे पहले जब वापसी का फ़ैसला लिया था तो उसके प्रशिक्षण भी शुरु कर दिया था और इस दौरान अपना वज़न भी कम कर लिया था.

संबंधित समाचार