चैंपियंस ट्रॉफ़ी मंगलवार से शुरु

Image caption चैंपिंयस ट्रॉफ़ी से पहले महेंद्र सिंह धोनी

विश्व कप के बाद 50 ओवर फ़ॉर्मेट में क्रिकेट की सबसे बड़ी प्रतियोगिता मंगलवार से दक्षिण अफ़्रीका में शुरु हो रही है. इसमें भारत समेत आठ टीमें हिस्सा लेंगी.

पहला मैच श्रीलंका और दक्षिण अफ़्रीका के बीच है(भारतीय समयानुसार शाम छह बजे).

ये प्रतियोगिता पिछले साल पाकिस्तान में होनी थी लेकिन सुरक्षा कारणों की वजह से इसे टाल दिया गया था और अब दक्षिण अफ़्रीका में करवाया जा रहा है.

इसमें दो ग्रुप होंगे जिसमें चार-चार टीमें रहेंगी. हर ग्रुप से दो-दो टीमें सेमीफ़ाइनल में पहुँचेगीं. फ़ाइनल मैच पांच अक्तूबर को होगा.

ग्रुप ए में भारत के अलावा वर्तमान चैंपियन ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज़ हैं जबकि दूसरे ग्रुप में इंग्लैंड, दक्षिण अफ़्रीका, न्यूज़ीलैंड और श्रीलंका हैं.

भारत का मैच

भारत का पहला मैच पाकिस्तान से 26 सितंबर को होगा जबकि 28 सितंबर को भारत का मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से है.

अपने पहले मैच को लेकर श्रीलंका के हौसले बुलंद हैं. कुमार संगकारा ने कहा,"हमारी टीम में सब आश्वस्त है. हमारी टीम का प्रदर्शन पिछले कुछ महीनों में अच्छा रहा है हालांकि इस श्रृंखला में पुरानी जीत का कोई लेना देना है."

भारत और श्रीलंका को 2002 में संयुक्त रुप से चैंपियन ट्राफ़ी विजेता घोषित किया गया था लेकिन फ़ाइनल और रिज़र्व दिन के दौरान बारिश हो गई थी.

इस बार चैंपियंस ट्रॉफ़ी से पहले अभ्यास मैच में भारत न्यूज़ीलैंड से हार गया है.

ट्वेन्टी-20 संस्करण के आने के बाद 50 ओवरों वाले खेल की लोकप्रियता को लेकर सवाल उठते रहे हैं. ट्वेन्टी-20 विश्व कप के तीन महीने के बाद ही एक नई प्रतियोगिता करवाने को लेकर भी बहस हो रही है.

2007 के विश्व कप के आयोजन के दौरान मिले सबकों पर भी ध्यान दिया गया है. कुल 51 मैच करवाने में छह से भी ज़्यादा हफ़्तों का समय लगा था. चैंपिंयस ट्रॉफ़ी में 15 ही मैच होंगे जो दो हफ़्ते में ख़त्म हो जाएँगे.

संबंधित समाचार