चार्जर्स हारे, कोबराज़ सुपर 8 में

गिलक्रिस्ट

चैम्पियंस लीग ट्वेन्टी-20 में डेक्कन चार्जर्स की टीम एक रोमांचक मैच में इंग्लैंड के सॉमरसेट से एक विकेट से हार गई है जबकि केप कोबराज़ सुपर आठ में पहुँच गए हैं.

डेक्कन ने कुल 153 रनों का लक्ष्य रखा था जिसे सॉमरसेट ने मैच की आख़िरी गेंद में हासिल किया. अल्फ़ांसो थॉमस को गेंदबाज़ी और बल्लेबाज़ी में अच्छे प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ़ द मैच का पुरस्कार मिला.

सॉमरसेट ने टॉस जीतकर पहले डेक्कन चार्जर्स को बल्लेबाज़ी करने के लिए कहा. चार्जर्स को शुरु में झटका लगा जब एडम गिलक्रिस्ट 18 के स्कोर पर आउट हो गए.

टी सुमन और एंड्रयू साइमंड्स का विकेट भी सस्ते में ही टीम ने गंवा दिया. हालंकि वीवीएस लक्ष्मण ज़रूर दूसरे छोर पर टिके हुए थे. लेकिन 11वें ओवर में ट्रेगो की गेंद पर लक्ष्मण 46 के स्कोर पर आउट हो गए.

इसके बाद रोहित शर्मा और वेणुगोपल राव ने पारी को संभालने की कोशिश तो की लेकिन क्रमश 24 और 22 बनाकर आउट हो गए. निर्धारित 20 ओवरों में डेक्कन चार्जर्स की टीम नौ विकेट पर 153 रन बना पाई. अल्फ़ोंसो थॉमस ने दो और बेन फ़िलिप्स ने तीन विकेट लिए.

सॉमरेसेट

सॉमरसेट की पारी की शुरुआत ठीक-ठाक रही. सलामी बल्लेबाज़ ट्रेस्कॉथिक और लैंगर 14 और 15 के स्कोर पर आउट हुए.

मध्यक्रम के बल्लेबाज़ ने स्कोर में कुछ ख़ास इज़ाफ़ा नहीं किया. 14वें ओवर में कुल स्कोर था सात विकेट पर 99 रन. लेकिन जेम्स हिलग्रेथ और थॉमस ने आकर पारी को संभाला.

अंतिम ओवर में सॉमरसेट को छह गेंदों में पाँच रन चाहिए थे और उसका स्कोर था 149/7. लेकिन आख़िरी ओवर की पहली गेंद पर ही जेम्स स्टाइरिस की गेंद पर 25 के स्कोर पर आउट हो गए.

मैच में रोमांच और बढ़ गया जब आख़िरी ओवर की तीसरी गेंद पर सॉमरसेट का नौवां विकेट गिर गया. अब जीत के लिए तीन गेदों में पाँच रन चाहिए थे. 19.4वीं गेंद पर थॉमस ने शानदार चौका लगाया और फिर आख़िरी गेंद पर भी चौका जड़ कर सॉमरसेट को जीत दिलाई.

केप कोबराज़

दक्षिण अफ़्रीकी टीम केप कोबराज़ चैम्पियंस लीग ट्वेन्टी-20 के सुपर-8 में पहुँच गई है. केप कोबराज़ ने हैदराबाद में हुए मुकाबले में न्यूज़ीलैंड के ओटागो को 54 रनों से शिकस्त दी.

केप कोरबाज़ के कप्तान एंड्रयू पटिक ने प्रतियोगिता का पहला शतक जड़ा. ग्रुप सी के इस मैच में केप कोबराज़ ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए चार विकेट पर 193 रनों का स्कोर खड़ा किया.

लेकिन ऑटागो की पूरी टीम 17.1 ओवरों में ही 139 के स्कोर पर ढेर हो गई. केवल नेथन मैक्लम ने ही डटकर गेंदबाज़ों का सामना करने की कोशिश की. उन्होंने 21 गेंदों में 38 रन बनाए लेकिन ऑटागो को हार से नहीं बचा पाए.

संबंधित समाचार