भारत की छह विकेट से जीत

महेंद्र सिंह धोनी
Image caption धोनी ने नाबाद 101 रनों की कप्तानी पारी खेली

शुरुआत में लड़खड़ाती पारी के बाद भारत ने एकदिवसीय मैच में बांग्लादेश पर छह विकेट से जीत दर्ज की है.

श्रीलंका, भारत और बांग्लादेश के बीच खेली जा रही त्रिकोणीय श्रृंखला में बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का निर्णय लिया और भारत के लिए 297 रनों का लक्ष्य रखा था.

भारत की जीत में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाबाद शतक, विराट कोहली के 91 रनों और सुरेश रैना के नाबाद अर्धशतक का बड़ा योगदान रहा.

धोनी को मैन ऑफ़ द मैच भी चुना गया.

भारत की पारी

भारत की पारी शुरुआत में लड़खड़ाती दिख रही थी और पहले 10 ओवरों में ही उसके तीन विकेट गिर गए थे. उस समय टीम का कुल स्कोर था 51 रन.

Image caption विराट कोहली अपने शतक से चूक गए

वीरेंद्र सहवाग को चौथे ओवर में अब्दुर रज़्ज़ाक ने शानदार थ्रो करके रन आउट किया. तब सहवाग 13 रनों पर खेल रहे थे.

इसके बाद आठवें ओवर में गौतम गंभीर को रुबेल हुसैन ने बोल्ड किया और युवराज को नौवें ओवर में सईद रसल ने.

लेकिन इसके बाद विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी ने टिककर खेलना शुरु किया और दोनों लगभग 25 ओवरों तक क्रीज़ पर रहे. दोनों ने मिलकर टीम के लिए डेढ़ सौ रन जोड़े.

45वें ओवर में जब विराट कोहली शाक़िब अल हसन की गेंद पर उन्हें ही कैच थमा बैठे तो वे शतक से बस नौ रन दूर थे.

इसके बाद आए सुरेश रैना ने भी धोनी का अच्छा साथ दिया और दोनों ने टीम को जीत दिलाई.

बांग्लादेश को ओस की वजह से गेंदबाज़ी में बहुत मदद नहीं मिल सकी.

भारत की ओर से कोई गेंदबाज़ कामयाब नहीं कहा जा सकता क्योंकि पाँच गेंदबाज़ों को एक-एक विकेट मिला.

लेकिन युवराज सिंह को अच्छी गेंदबाज़ी के लिए शाबासी दी जा सकती है क्योंकि उन्होंने दस ओवरों में 33 रन ही दिए.

बांग्लादेश की पारी

Image caption शाकिब ने सबसे किफ़ायत के साथ गेंदबाज़ी की

भारतीय पारी के विपरीत बांग्लादेश की पारी की शुरुआत बहुत अच्छी थी.

उसका पहला विकेट तमीम इक़बाल के रुप में 11वें ओवर में गिरा, लेकिन तब तक टीम का स्कोर 80 रन हो चुका था. तमीम ने टीम के लिए 42 गेंदों में 60 रन जोड़े.

इसके बाद दूसरे विकेट के लिए भारतीय गेंदबाज़ों को 16 और ओवर फेंकने पड़े. मोहम्मद अशरफ़ुल का विकेट 28वें ओवर में गिरा.

लेकिन तीसरा विकेट जल्दी ही गिरा और शाक़िब अल हसन 30वें ओवर में रन आउट हो गए. इसके बाद नियमित अंतराल में विकेट गिरते रहे.

बांग्लादेश की ओर से इमरुल कायस ने 70 रनों की और महमूदुल्ला ने 60 रनों की नाबाद पारी खेली.

बांग्लादेश के गेंदबाज़ों में रसल और रुबेल और शाक़िब को एक-एक विकेट मिले.

शाक़िब सबसे किफ़ायती गेंदबाज़ साबित हुए, उन्होंने दस ओवरों में सिर्फ़ 45 रन खर्च किए.

संबंधित समाचार