हॉकी खिलाड़ियों को 'अल्टीमेटम'

भारतीय हॉकी
Image caption भारतीय हॉकी बेहतर वेतन और भत्ते की मांग कर रहे हैं

समाचार एजेंसी पीटीआई ने हॉकी इंडिया के सूत्रों के हवाले से कहा है कि वेतन और भत्तों को लेकर अभ्यास सत्र का बहिष्कार कर रहे भारतीय हॉकी खिलाड़ियों को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया है.

पीटीआई के मुताबिक़ इस अल्टीमेटम में खिलाड़ियों से अभ्यास सत्र में लौटने को कहा गया है और अगर ऐसा नहीं हुआ तो उन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की चेतावनी दी गई है.

हॉकी इंडिया ने खिलाड़ियों को मंगलवार की शाम तक पुणे में चल रहे अभ्यास सत्र में लौटने को कहा है.

दूसरी ओर इस मामले में खिलाड़ियों की ओर से प्रतिनिधि नियुक्त प्रभजोत सिंह ने कहा है कि उन्हें ऐसा कोई अल्टीमेटम नहीं मिला है.

इंतज़ार

प्रभजोत ने कहा, "अल्टीमेटम की बात अटकलबाज़ी है. अभी तक हमें कोई अल्टीमेटम नहीं मिला है. हमें ये बताया है कि हॉकी इंडिया के अधिकारी पुणे आ रहे हैं. देखिए आगे क्या होता है. हम उनके आने का इंतज़ार कर रहे हैं."

माना जा रहा है कि हॉकी इंडिया के प्रमुख एके मट्टू के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल पुणे में खिलाड़ियों से बात करेगा.

पिछले शुक्रवार को पहली बार हॉकी खिलाड़ियों का ग़ुस्सा सामने आया था, जब उन्होंने विश्व कप के लिए पुणे में चल रहे अभ्यास सत्र में जाने से मना कर दिया.

उसके बाद हॉकी इंडिया के प्रमुख एके मट्टू ने कुछ प्रमुख खिलाड़ियों को दिल्ली बुलाया और शनिवार रात को ये घोषणा की गई कि मामला हल हो गया है.

लेकिन इन खिलाड़ियों के पुणे लौटते ही स्थिति बदल गई और खिलाड़ियों ने फिर अभ्यास सत्र के बहिष्कार का फ़ैसला किया.

दरअसल भारतीय हॉकी टीम के खिलाड़ियों का कहना है कि उन्हें न तो वेतन मिलता है और न ही प्रोत्साहन राशि. इन दोनों के लिए कोई तय मानदंड नहीं हैं.

संबंधित समाचार