ख़राब रोशनी से मैच में ख़लल

ज़हीर ख़ान
Image caption ज़हीर ख़ान ने दो विकेट लिए हैं

रोमांचक चटगाँव टेस्ट में एक बार फिर ख़राब रोशनी ने रुकावट डाली और पूरे दिन के खेल में सिर्फ़ 24.5 ओवर का ही खेल हो पाया.

ख़राब रोशनी के कारण जब दूसरे दिन का खेल रोका गया, उस समय बांग्लादेश की पहली पारी का स्कोर था तीन विकेट के नुक़सान पर 59 रन.

इससे पहले भारत की पूरी टीम 243 रन बनाकर आउट हो गई.

भारतीय पारी में अहम भूमिका निभाने वाले सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट करियर का 44वाँ शतक लगाया और 105 रन बनाकर नाबाद रहे.

लेकिन बांग्लादेश की टीम ने भी इस स्थिति का फ़ायदा नहीं उठाया. एक समय वे भी काफ़ी अच्छी स्थिति में थे.

ख़राब खेल

उन्होंने बिना किसी नुक़सान के 53 रन बना लिए थे. लेकिन छह रनों के अंदर उनके तीन विकेट गिर गए. इनमें से दो ज़हीर ख़ान को और एक ईशांत शर्मा के खाते में गया.

Image caption सचिन ने 44वाँ टेस्ट शतक लगाया

बांग्लादेश की ओर से तमीम इक़बाल 31 और इमरुल क़ैस ने 23 रनों की पारी खेली. लेकिन पहला विकेट गिरने के बाद धड़ाधड़ और विकेट गिर गए.

दोनों सलामी बल्लेबाज़ों को ज़हीर ख़ान ने पवेलियन भेजा जबकि शहरयार नफ़ीस का विकेट ईशांत शर्मा को मिला. शहरयार ने सिर्फ़ चार रन बनाए.

इससे पहले भारत ने रविवार के स्कोर आठ विकेट पर 213 रन से आगे खेलना शुरू किया. लेकिन आठ ओवर से भी कम में भारत ने अपने दोनों विकेट गँवा दिए.

इस बीच मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने अपना 44वाँ टेस्ट शतक ज़रूर पूरा कर लिया. वे 105 रन बनाकर नाबाद रहे.

बांग्लादेश के कप्तान शाकिब अल हसन और शहादत हुसैन ने पाँच-पाँच विकेट लिए.

संबंधित समाचार