नागपुर में नाक कटने के आसार

डेल स्टेन

नागपुर टेस्ट में भारत को हराकर दुनिया की नंबर वन टीम बनने के क़रीब आने का दक्षिण अफ़्रीकी टीम का सपना सच होता दिख रहा है.

और उनका ये सपना पूरा करने में अहम भूमिका निभा रहे हैं तेज़ गेंदबाज़ डेल स्टेन. जिन्होंने अपनी धारदार गेंदबाज़ी से भारतीय बल्लेबाज़ों के छक्के छुड़ा दिए.

भारत की पहली पारी में अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए स्टेन ने 51 रन देकर सात विकेट चटकाए.

उन्होंने भारत के आख़िरी पाँच विकेट 7.4 ओवर में सिर्फ़ 12 रन देकर चटकाए. भारत की पूरी टीम वीरेंदर सहवाग के शतक के बावजूद 233 रन पर आउट हो गई.

मेहमान टीम ने भारत को फ़ॉलोऑन कराया और दूसरी पारी में भी उसके दोनों सलामी बल्लेबाज़ वीरेंदर सहवाग और गौतम गंभीर पवेलियन लौट चुके हैं.

नागपुर में भारतीय टीम की हालत ख़राब है और वो फ़ॉलोऑन कर रही है. तीसरे दिन का खेल ख़त्म होने तक फ़ॉलोऑन करते हुए भारत ने अपनी दूसरी पारी में दो विकेट पर 66 रन बनाए थे.

अब भी भारतीय टीम दक्षिण अफ़्रीका की पहली पारी के स्कोर के मुक़ाबले 259 रनों से पीछे है. दक्षिण अफ़्रीका ने अपनी पहली पारी छह विकेट पर 558 रन बनाकर घोषित की थी.

तीसरे दिन का खेल

तीसरे दिन का खेल जब शुरू हुआ तो भारत का स्कोर था बिना किसी विकेट के नुक़सान के 25 रन.

Image caption सहवाग ने पहली पारी में शतक लगाया

भारत को पहला झटका गौतम गंभीर के रूप में लगा, जब गंभीर 12 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. इसके बाद मुरली विजय और सचिन तेंदुलकर के विकेट भी गिर गए.

एक समय भारत का स्कोर तीन विकेट पर 56 रन था. लेकिन वीरेंदर सहवाग और एस बद्रीनाथ ने पारी संभालने की कोशिश की.

दोनों ने चौथे विकेट की साझेदारी में 136 रनों की साझेदारी की. सहवाग ने अपने टेस्ट करियर का 18वाँ शतक लगाया. लेकिन 109 रन बनाकर वे आउट भी हो गए.

इसके बाद तो भारतीय पारी में जैसे पतझड़ शुरू हो गया. कप्तान धोनी ने छह रन बनाए. अपना पहला टेस्ट खेल रहे बद्रीनाथ ने 56 रन बनाए. लेकिन पहला टेस्ट खेल रहे रिद्धिमान साहा अपना खाता भी नहीं खोल पाए.

भारतीय पारी 233 रनों पर सिमट गई. इस तरह पहली पारी के आधार पर भारतीय टीम दक्षिण अफ़्रीका के स्कोर के मुक़ाबले 325 रन पीछे थी.

दक्षिण अफ़्रीका की ओर से डेल स्टेन ने 51 रन देकर सात विकेट लिए. मार्केल, हैरिस और पार्नेल को एक-एक विकेट मिला.

फ़ॉलोऑन कर रही भारतीय टीम ने दूसरी पारी में भी ख़राब शुरुआत की. भारत का पहला विकेट सिर्फ़ एक रन पर गिर गया. गंभीर एक रन बनाकर आउट हो गए.

उन्हें मॉर्केल ने बोल्ड किया. पहली पारी में शतक लगाने वाले वीरेंदर सहवाग इस बार 16 रन ही बना पाए. खेल ख़त्म होने तक भारत ने दो विकेट पर 66 रन बना लिए थे.

मुरली विजय 27 और सचिन तेंदुलकर 15 रन बनाकर नाबाद हैं.

संबंधित समाचार