शीतकालीन ओलंपिक 2010 समाप्त

शीतकालीन ओलंपिक
Image caption शीतकालीन ओलंपिक के दौरान बर्फ़ की कमी और बेमौसमी गर्मी से परेशानी भी हुई थी.

कनाडा के वैंकूवर में एक भव्य समारोह के साथ 21वां शीतकालीन ओलंपिक रविवार को समाप्त हो गया है.

सत्रह दिनों तक चली इस प्रतियोगिता में कनाडा 14 स्वर्ण, सात रजत और पाँच कांस्य पदक जीत कर पदक तालिका में सबसे ऊपर रहा. अमरीका को सबसे ज़्यादा 37 पदक प्राप्त हुए.

इस मौके पर अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक संघ (आईओसी) के अध्यक्ष ज्याक रोगे ने कहा, "पूरे शहर ने जिस तरह से खेल में दिलचस्पी दिखाई वो अपने आप में अनोखा था. इससे इन खेलों को बहुत ही अच्छा माहौल मिला.”

इस ओलंपिक में 82 देशों से 2500 एथलीटों ने हिस्सा लिया. शरुवाती माहौल गमगीन रहा था क्योंकि 21 वर्षीय एक एथलीट नोडार की मौत हो गई थी.

उदघाटन के कुछ घंटे पहले जॉर्जिया के नोडार कुमारीटाशविली हाई स्पीड स्लाइडिंग केंद्र में प्रशिक्षण ले रहे थे जब ये दुर्घटना हुई थी.

आईओसी के अध्यक्ष ज्याक रोगे ने आयोजको की प्रशंसा से पहले स्वीकार किया कि नोडार की मौत से उन्हें धक्का लगा था.

उन्होंने कहा, "इससे मुझे बहुत चोट पहुंची, मैं लगातार दो रातों तक सो नहीं पाया था."

इन खेलों के आयोजन में ख़राब मौसम, बर्फ़ की कमी और बेमौसमी गर्मी की वजह से काफ़ी परेशानी हुई थी.

सबसे अंत में पुरुषों की आईस हॉकी प्रतियोगिता हुई जिसमें कनाडा ने अमरीका को 3-2 से हरा कर स्वर्ण पदक जीत लिया.

संबंधित समाचार