इंग्लैंड से हारा भारत, उम्मीदें समाप्त

Image caption भारत के लिए प्रतियोगिता में बने रहने का ये आख़िरी मौक़ा था

इंग्लैंड ने विश्व कप हॉकी में अपना अभियान जारी रखते हुए शनिवार को ग्रुप-बी में भारत को 3-2 से हार दिया.

इंग्लैंड के हाथों हारकर भारत सेमीफ़ाइनल की दौड़ से लगभग बाहर हो गया है.

भारत की प्रतियोगिता में ये लगातार तीसरी हार है.

भारत अपने पहले मैच में पाकिस्तान को हराने के बाद एक भी मैच नहीं जीत पाया.

लगातार चार जीत से इंग्लैंड सेमीफ़ाइनल में पहुंचने में सफल रहा. चार मैचों में 12 अंकों के साथ इंग्लैंड पूल बी में शीर्ष पर है.

भारत को विश्व कप में आख़िरी बार इंग्लैंड पर 1994 में जीत पाया था.

इंग्‍लैंड के कप्‍तान बैरी बिडेलटन को मैन ऑफ द मैच के क़रार दिया गया

पहले हाफ़ में इंग्लैंड के सामने भारतीय टीम का खेल फीका नजर आया.

इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने शुरू से ही गेंद पर कब्ज़ा बनाए रखा और16वें मिनट में उन्होंने गोल कर दिया.

टिंडल ने डी के बाहर से आए पास को बहुत खूबसूरत तरीके से गोल के अंदर पहुंचाया. दूसरे हाफ में भी इंग्लैंड ने दबदबा कायम रखा और एक गोल कर डाला.

इसके बाद भारत के खेल में थोड़ी तेजी आई और उसने 54वें मिनट में अपना पहला गोल किया.

भारत के गुरविंदर सिंह चांडी ने ये गोल किया.

इसके कुछ ही देर बाद भारत ने एक गोल और उतारकर स्कोर 2-3 कर दिया.

एक और गोल के लिए भारतीय खिलाड़ी आख़िरी क्षण तक कोशिश करते रहे लेकिन इंग्लैंड के खेल के आगे उनकी एक न चली और इंग्लैंड ने मैच 3-2 से जीत लिया.

संबंधित समाचार