सौरभ गांगुली पर भारी पड़े धोनी

महेंद्र सिंह धोनी की शानदार बल्लेबाज़ी की बदौलत चेन्नई सुपरकिंग्स कोलकाता नाइट राइडर्स को 55 रनों से हराने में सफल रही.

चेन्नई की ओर से जस्टिन कैंप और लक्ष्मणपति बालाजी ने शानदार गेंदबाज़ी की.

उल्लेखनीय है कि नाइट राइडर्स ने इससे पहले अपने दोनों मैच जीते थे जबकि चेन्नई सुपर किंग्स की ये पहली जीत है. महेंद्र सिंह धोनी और एस बद्रीनाथ ने अंतिम तीन ओवर में चौके और छक्कों की बौछार कर चेन्नई सुपर किंग्स के स्कोर को 164 तक पहुंचा दिया.

जवाब में सौरभ गांगुली की कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम 19.2 ओवर में 109 रन ही बना पाई और 55 रन से मैच हार गई.

कोलकाता की ओर से सबसे ज्यादा 22 रन वृद्धिमान साहा ने बनाए, बाकी के खिलाड़ी एक के बाद एक आउट होते चले गए.

कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही.

पहली ही गेंद पर ओपनर हॉज आउट हो गए, उन्हें मॉर्केल ने आउट किया.

दूसरे ओवर में आठ रन के निजी स्कोर पर मनोज तिवारी भी गोनी के शिकार बन गए. कोलकाता का चौथा विकेट ओवेस शाह के रूप में गिरा. उन्होंने पाँच रन का योगदान दिया.

कोलकाता की उम्मीदें सौरभ गांगुली थीं पर वो 11 रन बनाकर आउट हो गए.

इस मैच में रोहन गावस्कर खेल रहे थे लेकिन वो दो रन ही बना पाए.

इसके पहले टॉस जीतकर चेन्नई सुपरकिंग्स टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 33 गेंदों में 66 रन और बद्रीनाथ ने 33 गेंदों में 43 रन बनाकर बनाए थे.

मैच के अंतिम छह ओवरों में धोनी और बद्रीनाथ ने 83 रनों का योगदान दिया. लेकिन चेन्नई की शुरुआत ख़राब रही और मैथ्यू हेडन एक रन बनाकर आउट हो गए.

एक समय ऐसा लग रहा था कि चेन्नई की टीम 120-125 के आसपास ही बना पाएगी.

लेकिन कप्तान धोनी और बद्रीनाथ की बल्लेबाज़ी की मदद से टीम तीन विकेट पर 164 रन बनाने में सफल रही.

कोलकाता नाइट राइडर्स की ओर से ईशांत शर्मा, लक्ष्मी रतन शुक्ला और हॉज को एक-एक विकेट मिला.

संबंधित समाचार