सचिन का टी-20 विश्व कप खेलने से इनकार

सचिन तेंदुलकर

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए कहा है कि अप्रैल में होने वाले आईसीसी ट्वेंटी 20 विश्वकप में भाग नहीं लेंगे.

तेंदुलकर के आईपीएल-3 में शानदार फॉर्म को देखते हुए ऐसे अटकलें लगाईं जा रहीं थीं कि वो टवेंटी 20 विश्व कप में हिस्सा ले सकते हैं.

सचिन तेंदुलकर विश्व कप के 30 संभावित खिलाड़ियों में शामिल नहीं हैं.

लेकिन पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर और अन्य कई विश्लेषक सचिन से अपना फ़ैसला बदलकर ट्वेंटी-20 विश्व कप में खेलने के लिए कह रहे हैं. तेंदुलकर ने हालांकि इस संभावना को खारिज कर दिया है.

उन्होंने एक बयान में कहा,''मैं आईसीसी विश्व ट्वेंटी-20 में नहीं खेल रहा हूँ. मैं 2007 के बाद ट्वेंटी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में नहीं खेला हूं और मुझे नहीं लगता कि अब यह कोई मुद्दा है.''

वर्ष 2010 में सचिन का शानदार प्रदर्शन रहा है. सचिन ने महज तीन महीनों में पांच शतक जड़े हैं.

साथ ही सचिन तेंदुलकर ने वनडे इतिहास का पहला दोहरा शतक लगाया था.

इसी रिकॉर्ड के बाद कपिल देव, अजीत वाडेकर और दिलीप वेंगसरकर ने ये माँग भी कर डाली कि सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न से सम्मानित किया जाना चाहिए.

इसके बाद नासिर हुसैन जैसे दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ियों ने सचिन तेंदुलकर को डॉन ब्रैडमैन से भी बेहतर क़रार दिया था.

हालांकि सचिन तेंदुलकर कहना था कि वो इस तरह की तुलनाओं में कोई विश्वास नहीं करते हैं और सभी क्रिकेट खिलाड़ियों के लिए उनके दिल में बहुत सम्मान है.

संबंधित समाचार