आईपीएल की तुलना बीसीसीआई से नहीं

ललित मोदी और प्रीति ज़िंटा
Image caption आईपीएल की शुरुआत करना ललित मोदी की दिमाग़ का उपज़ माना जाता है

इंडियन प्रीमियर लीग के कमिश्नर और अध्यक्ष ललित कुमार मोदी इस बात से इत्तेफ़ाक़ नहीं करते कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई आईपीएल की अपार सफलता का शिकार बन रही है.

उनका कहना है कि आईपीएल को अभी बहुत दूर का सफ़र करना है. हालांकि उन्होंने दावा किया कि अगले चार साल में आईपीएल का आकार पांच से छह गुना विकसित होगा.

जब उनसे पूछा गया कि क्या बीसीसीआई आईपीएल की कामयाबी का शिकार बन रही है तो उन्होंने कहा, "यह सही नहीं है. आईपीएल को एक दिन में महज़ छह करोड़ रुपए की आय है जबकि बीसीसीआई को एक दिन में 32.5 करोड़ रुपए का राजस्व मिलता है. बीसीसीआई हमेशा आगे रहेगी."

ललित मोदी ने कहा, "अगले तीन साल में आईपीएल बीसीसीआई के मौजूदा स्तर पर पहुंच जाएगा, लेकिन बीसीसीआई उस समय और आगे बढ़ जाएगी. बीसीसीआई दुनिया में क्रिकेट के शिखर पर है जबकि आईपीएल अभी दूर की कोड़ी है"

आईपीएल अध्यक्ष ने आगे कहा कि आने वाले साल में बीसीसीआई दुनिया की सबसे अमीर खेल संस्था बन जाएगी और आईपीएल का मुक़ाबला अपने मातृ संस्था से नहीं है बल्कि संपूर्ण मनोरंजन उद्योग से है.

कमाई बढ़ने की आशा

मोदी ने कहा, "जब हमारे मैच की शुरुआत होती है तब प्राइम टाइम पर सॉप ऑपेरा दिखाया जाता है, लेकिन सबसे अधिक टीआरपी हमें मिलती है और इस रुझान को देखते हुए ये कहा जा सकता है कि ये और बढ़ेगा."

उनका कहना था कि आईपीएल की आय और बढ़ेगी क्योंकि इसके देखने वालों को दायरा विदेशी चैनलों और इंटरनेट के ज़रिए बढ़ता ही जा रहा है.

मोदी ने कहा कि यूरोपीय फ़ुटबॉल और हॉकी क्लब के मुक़ाबले उनके पास आधारभूत ढांचा बि्लकुल नहीं है और वो अपने प्रशंसकों का दायरा विदेशों में बना रहे हैं.

मोदी ने कहा, "यूरोपीय फ़ुटबॉल और हॉकी क्लब के पास अपना बड़ा सा स्टेडियम होता है और उसकी वो देखरेख करते हैं, जबकि आईपीएल टीमों को ये मैदान निशुल्क देता है."

उन्होंने बताया कि अगले साल आईपीएल-4 के मुक़ाबलों में 60 के बजाए 90 मैच खेले जाएंगे और इस तरह मैच के अनुपात के अनुसार आय में बढ़ोतरी होगी.

आईपीएल की क्षमता की बात करते हुए मोदी ने कहा कि दो टीमों की ब्रिकी इस बात का प्रमाण है.

आईपीएल की अधिकतर कमाई का हिस्सा उसकी टीमों को जाता है जबकि कुछ भाग बीसीसीआई को भी जाता है.

ललित मोदी ने बताया कि इस साल आईपीएल को एक अरब डॉलर की आमदनी की उम्मीद है जबकि पिछले साल उसकी कमाई 45 करोड़ डॉलर रही थी.

संबंधित समाचार