'सानिया, शोएब और आयशाः सच्चाई क्या है?'

जिस पल से ये ख़बर आई है कि भारतीय खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी करने जा रही हैं, उसी पल से ये ख़बर हर अख़बार, हर चैनल की सुर्ख़ी बनी हुई है.

कोई इसे गज़ब जोड़ी बता रहा है तो कुछ इसे भारत-पाक रिश्तों से जोड़कर देख रहे हैं. लेकिन इस ‘ग़ज़ब’ लव स्टोरी में अजब ट्विस्ट आ गया है.

हैदराबाद के रहने वाले अहमद सिद्दीक़ी ने आरोप लगाया है कि शोएब का उनकी बेटी आयशा से निकाह हो चुका है और इस तरह सानिया शोएब की दूसरी बीवी होंगी.

पीटीआई के मुताबिक अहमद सिद्दीक़ी ने कहा है कि आयशा शोएब की पहली बीवी हैं और सानिया से शादी करने से पहले उन्हें आयशा को तलाक देना होगा.

कुछ दिन पहले ही सानिया और शोएब ने ये बात सार्वजनिक की है कि दोनों अप्रैल में शादी करने जा रहे हैं और शादी के बाद वे दुबई में रहेंगे.

'शोएब तलाक दें'

अहमद सिद्दीक़ी ने क़ानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है. उन्होंने कहा है, "शोएब की शादी मेरी बेटी से हो चुकी है लेकिन बाद में वे मुकर गए. मैं क़ानूनी क़दम उठाउँगा, मेरे पास सबूत है और मैने अपने वकील से बात कर ली है."

शोएब के रुख़ से नाराज़ आयशा के पिता कहते हैं, "शोएब ये बात पहले स्वीकर कर चुके हैं कि आयशा से उनकी शादी हुई है. उन्होंने हैदराबाद में एक मैच में 75 रन बनाने के बाद अरूण लाल से ये बात कही थी. शोएब ने उस समय कहा था कि अपनी पत्नी के गृह नगर में आकर उन्हें बेहद अच्छा लग रहा है. उस वक़्त लोगों ने शोएब के लिए ख़ूब तालियाँ बजाई थीं क्योंकि वे आयशा, आयशा चिल्ला रहे थे. आप वो सीडी देख सकते हैं. क्या ये काफ़ी नहीं है."

अहमद सिद्दीक़ी कहते हैं कि उन्हें शोएब से कुछ नहीं चाहिए, वे केवल चाहते हैं कि शोएब उनकी बेटी को तलाक दे दे.

उनका कहना है कि इस्लाम के तहत आयशा तब तक दूसरी शादी नहीं कर सकती जब तक शोएब तलाक नहीं दे देते.

लेकिन शोएब मलिक धोखे की बात से इनकार कर रहे हैं. कई अख़बारों ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि आयशा और शोएब की मुलाका़त 2001 में दुबई में एक रेस्तरां में हुई.

अख़बारों में छपा है कि 'आयशा अपनी एक दोस्त माहा के साथ शोएब से मिलने आई थीं. माहा काफ़ी आकर्षक थीं और शोएब को भा गईं. बाद में आयाशा ने हैदराबाद लौटकर शोएब से माहा बनकर चैटिंग करनी शुर कर दी. आयशा धीरे-धीरे शोएब से प्यार करने लगी और उन्होंने अपने माता-पिता को मनवा लिया कि वे फ़ोन पर ही शोएब से निकाह करवा दें.'

समाचार पत्रों के मुताबिक जब 2005 में शोएब हैदराबाद आए तो उन्होंने मिलने की इच्छा जताई लेकिन आयशा के माता-पिता ने ये कहकर मिलवाने से मना कर दिया कि आयशा शहर से बाहर गई हूँ.

ये भी लिखा गया है कि बाद में आयशा ने दुबई से शोएब को अपनी असली तस्वीर भेजी जिसके बाद शोएब ने रिश्ता तोड़ लिया. शोएब ने आरोप लगाया कि सिद्दीक़ी परिवार ने उनके साथ धोखाधड़ी की है.

प्यार और 'धोखे' की इस दास्तां में सच्चाई क्या है ये राज़ अभी राज़ ही बना हुआ है.

संबंधित समाचार