नागपुर में डेक्कन का डंका

डेक्कन चार्जर्स
Image caption डेक्कन चार्जर्स के 12 अंक हो गए हैं

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के एक अहम मैच में जीत हासिल करके पिछले साल की चैम्पियन डेक्कन चार्जर्स की टीम ने सेमी फ़ाइनल में पहुँचने की उम्मीद बनाए रखी है.

नागपुर में हुए एक मैच में डेक्कन चार्जर्स ने रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर को 13 रनों से मात दी. इस मैच में डेक्कन चार्जर्स की शुरुआत ही काफ़ी ख़राब रही.

लेकिन इन सबसे उबरते हुए डेक्कन चार्जर्स ने इस मैच में जीत हासिल की. पहले बल्लेबाज़ी करते हुए डेक्कन चार्जर्स ने 20 ओवर में छह विकेट पर 151 रन बनाए.

जवाब में रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर की टीम 19.4 ओवर में 138 रन बनाकर आउट हो गई. इस जीत के साथ ही डेक्कन चार्जर्स के 12 मैचों में 12 अंक हो गए हैं और टीम सेमी फ़ाइनल की रेस में बनी हुई है.

रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर ने टॉस जीतकर पहले फ़ील्डिंग चुनी. डेक्कन चार्जर्स की शुरुआत इतनी ख़राब रही कि उसके तीन खिलाड़ी सिर्फ़ 14 रन बनाकर आउट हो गए.

कप्तान एडम गिलक्रिस्ट और सुमन को अपना खाता भी नहीं खोल पाए. जबकि हर्शेल गिब्स 12 रन बनाकर आउट हुए.

लेकिन इसके बाद रोहित शर्मा और मोनीष मिश्रा ने पारी संभाली और स्कोर को 96 तक ले गए. मोनीष मिश्रा 41 रन बनाकर पवेलियन लौटे.

पारी

इस बार साइमंड्स सिर्फ़ 19 रन ही बना पाए, जबकि रोहित शर्मा ने सर्वाधिक 51 रनों की पारी खेली. 20 ओवर में डेक्कन ने छह विकेट पर 151 रन बनाए.

Image caption द्रविड़ की पारी काम न आई

जवाब में रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर की भी शुरुआत ख़राब रही. पहली ही गेंद पर मनीष पांडे आउट हो गए.

लेकिन इसके बाद ज़ाक कैलिस और राहुल द्रविड़ ने संभल कर खेलना शुरू किया. दोनों अच्छा खेल रहे थे, लेकिन एक बार इन दोनों के विकेट क्या गिरे, बंगलौर की टीम बिखर गई. कैलिस ने 27 और द्रविड़ ने 49 रन बनाए.

इन दोनों के बाद रॉबिन उथप्पा ही कुछ हाथ दिख पाए. उन्होंने 34 रन बनाए. बंगलौर की टीम 19.4 ओवर में 138 रन बनाकर आउट हो गई.

डेक्कन चार्जर्स की ओर से हरमीत सिंह ने 24 रन देकर दो विकेट लिए. हैरिस, आरपी सिंह और प्रज्ञान ओझा को भी दो-दो विकेट मिले. लेकिन मैन ऑफ़ द मैच रहे हरमीत सिंह.

संबंधित समाचार