मुंबई इंडियंस फ़ाइनल में

Image caption पोलार्ड मैन ऑफ़ दी मैच बने.

पोलार्ड के हरफ़नमैला प्रदर्शन की बदौलत मुंबई इंडियंस ने रॉयल चैलेंजर्स को 35 रनों से हराकर आईपीएल-3 के फ़ाइनल में प्रवेश कर लिया है.

रॉयल चैलेंजर्स के सामने जीत के लिए 185 रनों का लक्ष्य था लेकिन बीस ओवर में वो नौ विकेट के नुकसान पर 149 रन ही बना पाए.

मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी काइरोन पोलार्ड को उनकी बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी के लिए मैन ऑफ़ द मैच चुना गया. पोलार्ड ने मात्र 13 गेंदों में 33 रन बनाए और तीन महत्वपूर्ण विकेट भी झटके.

अनिल कुंबले की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स की टीम शुरुआत में ही पीटरसन और कैलिस के आउट हो जाने के बाद पूरे मैच में संभल नहीं पाई.

टॉस जीतने के बात मुंबई ने बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया लेकिन उनकी शुरूआत अच्छी नहीं रही.

कप्तान सचिन तेंदुलकर जो इस साल अच्छे फ़ॉर्म में नज़र आए हैं, मात्र नौ रन बनाकर आउट हो गए.

मैच के दूसरे ओवर में डेल स्टेन की गेंद पर दो चौके लगाने के बाद सचिन एक आउटस्विंगर पर चकमा खा गए और रॉस टेलर को कैच थमा बैठे.

इस साल ये पहली बार है जब सचिन दो अंकों से कम के स्कोर पर आउट हुए.

स्टेन के ही अगले ओवर में विराट कोहली ने धवन को रन आउट करके मुंबई को दूसरा झटका दे दिया. स्कोर था 29 रन.

मुंबई की बल्लेबाज़ी की ख़ासियत रही आख़िरी पांच ओवरों में बने 77 रन.

इसमें योगदान था सौरभ तिवारी का जिन्होंने 31 गेंदों में 52 रन बनाए, अंबती रायडू जिन्होंने 38 गेंदों में 40 बनाए और पोलार्ड का जिन्होंने 13 गेंदों में 33 रन बनाकर मुंबई के स्कोर को 184 पर पहुंचा दिया.

संबंधित समाचार