आज नॉक आउट का आखिरी दौर

Image caption पुर्तगाल के खिलाड़ी रोनाल्डो पर सबकी नज़र होगी.

मंगलवार को नॉक आउट स्टेज का आख़िरी दौर खेला जाएगा. पहले मैच में पराग्वे का सामना जापान से होगा तो दूसरे मैच में स्पेन और पुर्तगाल की टीमें आमने-सामने होंगी.

पराग्वे और जापान का मैच प्रीटोरिया में खेला जाएगा. अगर रिकॉर्ड की बात करें तो किसी भी एशियाई देश ने आज तक विश्व कप में किसी दक्षिण अमरीकी देश को नहीं हराया है. लेकिन रिकॉर्ड तो टूटने के लिए ही होते हैं.

जापान की टीम ने जिस तरह ग्रुप स्टेज में प्रदर्शन किया है, उससे तो यही लगता है कि इस बार ये रिकॉर्ड टूट जाए तो कोई हैरत नहीं होगी. जापान ने ग्रुप स्टेज में कैमरुन को 1-0 से और डेनमार्क को 3-1 से मात दी थी. हालाँकि टीम नीदरलैंड्स से 1-0 से हार गई थी, लेकिन अपने प्रदर्शन से उसने सबको मन मोह लिया था.

अपनी कलात्मक पासिंग तकनीक और बेजोड़ फ़्री किक से जापान ने फ़ुटबॉल के पंडितों को भी प्रभावित किया है. जापान के किसुके होंडा इस विश्व कप के उन खिलाड़ियों में रहे हैं, जिन्होंने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया है. जिन छह मैचों में होंडा ने गोल किया है, जापान ने वे सभी मैच जीते हैं.

लेकिन जापान के लिए चुनौती आसान नहीं होगी. पराग्वे की टीम के ख़िलाफ़ इस विश्व कप में सिर्फ़ एक गोल ही हुआ है. पराग्वे ने ग्रुप मैचों में सिर्फ़ एक में ही जीत हासिल की, बाक़ी के दो मैच ड्रॉ रहे थे. लेकिन पराग्वे ने भी इस विश्व कप में सबको अपने खेल से प्रभावित किया है. लेकिन उनकी फ़ॉरवर्ड लाइन ने सबसे ज़्यादा निराश किया है और टीम ने आक्रमण भी कम किए हैं. इसलिए इस मैच में उनकी ये कमज़ोरी उन्हें भारी पड़ सकती है.

उम्मीद है कि जापान के कोच वही टीम उतारेंगे, जो उन्होंने पिछले तीन मैचों में उतारी है.

कांटे की टक्कर

Image caption जापान की टीम की काफ़ी तारीफ़ हुई है.

नॉक आउट स्टेज में जर्मनी और इंग्लैंड के मुक़ाबले के बाद जिस मुक़ाबले पर सबकी नज़र है, वो है स्पेन और पुर्तगाल का मैच. ये मैच नॉक आउट स्टेज का आख़िरी मैच होगा. केपटाउन में होने वाले इस मैच के काफ़ी संघर्षपूर्ण होने की उम्मीद है.

पुर्तगाल ने ग्रुप मैचों में काफ़ी संभल कर खेला है क्योंकि उसकी प्राथमिकता किसी तरह दूसरे दौर में पहुँचने की थी. पुर्तगाल ने आइवरी कोस्ट और ब्राज़ील के साथ गोलरहित ड्रॉ खेला तो उत्तर कोरिया के ख़िलाफ़ गोल की बरसात ही कर दी. लेकिन इस मैच में उसे अपना असली दम दिखाना होगा.

दूसरी ओर स्पेन की टीम की टीम ने स्विट्ज़रलैंड के हाथों पिट कर इस प्रतियोगिता की शुरुआत की थी. लेकिन उसके बाद टीम ने होंडूरास को 2-0 से और चिली को 2-1 से हराकर दूसरे दौर में जगह बनाई है. टीम फ़िलहाल अच्छे फ़ॉर्म में नज़र आ रही है और स्टार खिलाड़ियों का प्रदर्शन भी सुधर रहा है.

स्पेन को शायद इसी मौक़े की तलाश थी. पुर्तगाल के ख़िलाफ़ मैच में स्पेन के स्टार खिलाड़ी चले, तो पुर्तगाल की टीम को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है.

दोनों टीमों के बीच इस मैच से पहले 32 मुक़ाबले हो चुके हैं, जिनमें पुर्तगाल ने सिर्फ़ पाँच जीते हैं, 15 में स्पेन जीता है, जबकि 12 मैच ड्रॉ रहे हैं. इस मैच में स्पेन के ज़ावी अलोंज़ो का खेलना तय नहीं है. दूसरी ओर पुर्तगाल के डेको अब फ़िट हैं और चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे.

संबंधित समाचार