इटली बाहर,जापान दूसरे दौर में

विश्व कप में नाक की लड़ाई के लिए मैदान पर उतरी मौजूदा चैम्पियन इटली की टीम औंधे मुँह गिरी और प्रतियोगिता से बाहर हो गई है.

इटली की टीम स्लोवाकिया के हाथों पिट गई जबकि दक्षिण कोरिया के बाद एक और एशियाई टीम जापान ने अंतिम 16 में जगह बनाई.

नीदरलैंड्स, पराग्वे और स्लोवाकिया ने भी नॉक आउट स्टेज के लिए क्वालीफ़ाई किया. जबकि इटली के साथ न्यूज़ीलैंड, डेनमार्क और कैमरून की टीमें प्रतियोगिता से बाहर हो गईं.

लेकिन सबसे मज़ेदार मुक़ाबला मौजूदा चैम्पियन इटली और स्लोवाकिया के बीच हुआ. इटली के लिए करो या मरो वाले इस मुक़ाबले में जीत या कम से कम ड्रॉ करना ज़रूरी था.

लेकिन जीत तो दूर टीम मैच ड्रॉ भी नहीं करा पाई. मैच के आख़िरी कुछ क्षणों में टीम की तेज़ी काम न आई और 3-2 से टीम हार गई. स्लोवाकिया की टीम ने उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया और इटली को कई मौक़े पर चकित किया.

मैच का पहला गोल रॉबर्ट विकेट ने 25वें मिनट में किया.

इस गोल के बाद स्लोवाकिया की टीम और फ़ॉर्म में नज़र आने लगी जबकि इटली के कैंप में निराशा छाने लगी. लेकिन मामला इतने तक ही नहीं रुका. दूसरे हाफ़ में मुक़ाबला और ज़ोरदार रहा. गोल के लिए दोनों टीमों का संघर्ष देखने लायक था.

लेकिन एक बार फिर बाज़ी मारी स्लोवाकिया की टीम ने, जब विटेक ने 73वें मिनट में एक बार फिर अपने पैर का जादू दिखाते हुए गेंद को इटली के गोल की राह दिखाई.

81वें मिनट में डी नटाले ने गोल करके इटली की ओर से खाता खोला. लगा शायद इटली ड्रॉ करके अपने लिए आगे रास्ता निकाल सकता है.

लेकिन इससे पहले की इटली की टीम बराबरी की कोशिश करती, स्लोवाकिया के कोपुनेक ने 89वें मिनट में स्लोवाकिया की ओर से तीसरा गोल दाग किया. अब इटली के लिए मुश्किल बढ़ती जा रही थी. गोल बराबर करने की कोशिश में एक बार दोनों टीमों के खिलाड़ी आपस में भिड़े भी और स्लोवाकिया के गोलकीपर को पीला कार्ड भी दिखाया गया.

इटली की ओर से क्वागलियारेला ने मैच ख़त्म होने से कुछ समय पहले गोल करके अंतर को कम किया लेकिन इटली की टीम मैच नहीं जीत पाई और उसे भी स्वदेश वापसी का टिकट कटाना पड़ेगा.

पराग्वे-न्यूज़ीलैंड मैच ड्रॉ

Image caption जापान विदेशी धरती पर हुए विश्व कप में पहली बार पहली बार दूसरे दौर में पहुंचा है

पराग्वे और न्यूज़ीलैंड का मैच गोलरहित ड्रॉ रहा.इस तरह पराग्वे की टीम अपने ग्रुप में शीर्ष पर रही और स्लोवाकिया की टीम दूसरे नंबर पर रही.

ग्रुप ई के मुक़ाबलों में जापान की टीम ने शानदार प्रदर्शन किया. जापान ने डेनमार्क को 3-1 से हराकर दूसरे दौर में जगह बनाई. जापान की टीम का मैदान में प्रदर्शन बेहतरीन रहा.

जापान की ओर से पहला गोल केसुकी होंडा ने एक फ़्री किक पर किया.

डेनमार्क के गोलकीपर देखते रह गए. जापान की ओर से दूसरा गोल कुछ इसी तरह हुआ. इस बार फ़्री किक एंडो ने लगाई, लेकिन नतीजा वही रहा और जापान ने 2-0 से बढ़त बना ली. हाफ़ टाइम तक स्कोर 2-0 ही रहा.

लेकिन दूसरे हाफ़ में डेनमार्क के टॉमसन ने 81वें मिनट में गोल करके अपनी टीम का खाता खोला लेकिन जापान भी जवाब के लिए तैयार था.

87वें मिनट में ओकाज़ाकी ने गोल करके अपनी टीम को 3-1 से जीत दिला दी.

जापान की टीम ने इस जीत के साथ ही इतिहास रचा और विदेशी ज़मीन पर हुए विश्व कप में पहली बार दूसरे दौर में जगह बनाई.

एक अन्य मैच में नीदरलैंड्स ने कैमरून को 2-1 से हरा दिया. कैमरून की टीम इस विश्व कप में एक भी मैच नहीं जीत पाई. तो अब नीदरलैंड्स का मुक़ाबला स्लोवाकिया से और जापान का मुक़ाबला पराग्वे से होगा.

संबंधित समाचार