पेनाल्टी शूट आउट में पराग्वे की जीत

पराग्वे के खिलाड़ी

दक्षिण अफ़्रीका में जारी फ़ुटबॉल विश्व कप का मुक़ाबला दमदार और रोचक होता जा रहा है.

मंगलवार को हुए पहले मैच में फ़ैसला अतिरिक्त समय में भी नहीं हो पाया.

जापान और पराग्वे की टीम अंत तक 0-0 के स्कोर पर रही. और फिर बात पहुंची पेनाल्टी शूट आउट तक.

मंगलवार को नॉक आउट स्टेज के पहले मैच में पराग्वे ने पेनाल्टी शूट आउट पर जापान को 5-3 से हरा कर क्वार्टर फ़ाइनल में प्रवेश कर लिया है.

दोनों टीमों में बराबरी की टक्कर रही. एक ओर जहां गोल करने के मौक़े दोनों ने गंवाए वहीं दोनों टीमों के गोलकीपर और रक्षा पंक्ति ने अच्छा बचाव भी किया.

पहले हाफ़ में पराग्वे के पास गेंद ज़्यादा रही तो दूसरे हाफ़ में जापान ने अपना दबदबा बनाया.

पराग्वे और जापान के बीच मैच प्रीटोरिया में खेला गया.

रिकार्ड

Image caption पराग्वे ने गोल करने की कई कोशिश की

अगर रिकॉर्ड की बात करें तो किसी भी एशियाई देश ने आज तक विश्व कप में किसी दक्षिण अमरीकी देश को नहीं हराया है.

और आज भी यही हुआ, हालांकि जापान की ओर से एबे, एन्डो, मात्सुइ, हेसेबे, हॉंडा और ओकूबो ने गोल करने की काफ़ी कोशिश की.

उधर पराग्वे की ओर से रिवेरोस, ओरटिगोज़ा, सैंटाक्रुज़, बेनिटेज़ और बैरिओस ने भी कोशिश की.

लेकिन मौक़े पर पास या तो लंबा हो जा रहा था ता फिर बीच ही में रोक लिया जा रहा था. और यही कारण रहा कि मौक़ा मिलने के बाद भी कोई टीम भी गोल करने में सफल नहीं रही.

जापान की टीम ने जिस तरह ग्रुप स्टेज में प्रदर्शन किया आज वह अपना वैसा हुनर नहीं दिखा सकी और उनकी कलात्मक शैली के पास नहीं चल सके.

जापान ने ग्रुप स्टेज में कैमरुन को 1-0 से और डेनमार्क को 3-1 से मात दी थी. नीदरलैंड्स से वह 1-0 से हार गई थी.

पराग्वे की टीम के ख़िलाफ़ इस विश्व कप में सिर्फ़ एक ही गोल हुआ है और इस मैच में भी उसने गोल नहीं होने दिया. उसने ग्रुप मैचों में सिर्फ़ एक में ही जीत हासिल की, बाक़ी के दो मैच ड्रॉ रहे थे.

इस जीत के साथ ही वह क्वार्टर फ़ाइनल में पहुंच गई है और आज के दूसरे मैच में जीत हासिल करने वाली टीम से उसका मुक़ाबला होगा.

संबंधित समाचार