फिर रौनक, फिर वाका-वाका......

Image caption शकीरा इस विश्व कप के समापन समारोह की भी रौनक बनी हैं.

एक बार फिर जोहानेसबर्ग में ज़बरदस्त रौनक है. हर तरफ चहल-पहल. फ़ाइनल से पहले बाज़ार सज चुके हैं, दूकानों में स्पेन और नीदरलैंड्स के साथ-साथ मेज़बान दक्षिण अफ़्रीका का झंडा लहरा रहा है.

हर चौक-चौराहे पर दोनों देशों के झंडे बेचने वाले फिर कुछ दिनों से उत्साहित हैं. स्पेन और नीदरलैंड्स के समर्थक अपनी कारों पर झंडा लहरा रहे हैं. लेकिन सबसे अच्छा माहौल है मंडेला स्क्वेयर पर.

मंडेला स्क्वेयर और उससे लगे मॉल में स्पेन और नीदरलैंड्स समर्थकों का उत्साह देखते ही बनता है. वुवुज़ेला अब स्थानीय लोगों के हाथ से निकल कर अन्य देशों के लोगों के हाथ में ख़ूब दिखने लगा है. मंडेला की विशालकाय प्रतिमा के पास समर्थकों का जमघट लगा सकता है. देश-दुनिया के मीडिया वाले भी यहाँ इनकी बाट जोहते हैं.

Image caption कई रेस्तरां स्पेन की टीम के रंग में रंगे हैं

एक बार जब ये इकट्ठा होते हैं तो समां बांध देते हैं. लोग अपनी भाषा में गाना गाते हैं, नाचते हैं, झूमते हैं. नीदरलैंड्स के समर्थकों का जोश कभी स्पेन समर्थकों पर भारी पड़ता है, तो कभी स्पेन समर्थक छा जाते हैं.

रेस्तरां टीम के रंग में

शहर के कई रेस्तरां और बारों में फ़ाइनल मैच की ख़ास व्यवस्था की गई है. कुछ रेस्तरां ने एक ख़ास टीम के रंग में अपने को रंग लिया है. शहर के फोरवेज़ इलाक़े का एक रेस्टोरेंट तो नारंगी हो गया है. यहाँ फ़ाइनल के लिए ख़ास व्यवस्था की गई है और यहाँ सिर्फ़ और सिर्फ़ डच समर्थकों का जमावड़ा रहेगा.

स्पेन समर्थकों के लाल रंग में भी कई बार और रेस्तरां रंग गए हैं. स्थानीय लोग भी इसका ख़ूब मज़ा ले रहे हैं. स्थानीय लोग पहनते तो दक्षिण अफ़्रीका की जर्सी हैं लेकिन फ़ाइनल की अपनी फ़ेवरिट टीम का झंडा लहरा रहे हैं.

कई बार जब दोनों देशों के समर्थक एक-साथ जमा होते हैं तो अंताक्षरी जैसा माहौल हो जाता है. गीत-संगीत में दोनों देशों के समर्थक एक-दूसरे पर ताने कसते हैं.

Image caption अपनी टीम के बाहर हो जाने के बाद भी दक्षिण अफ़्रीका के दर्शकों में ख़ासा उत्साह है

कई इलाक़ों में एक दिन पहले से ही ट्रैफ़िक जाम होने लगा है तो कई देशों के राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री के आने को लेकर भी ख़ासा उत्साह है. फ़ाइनल के दिन सॉकर सिटी स्टेडियम के आसपास वही लोग जा सकेंगे, जिनके पास टिकट या पास होगा.

क्या मंडेला आएँगे?

कई सड़कों को सुरक्षा के कारण बंद कर दिया गया है. सरकार नहीं चाहती कि शांतिपूर्वक बीत रहे इस टूर्नामेंट में सुरक्षा व्यवस्था में कोई कमी रह जाए. बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को सड़कों पर देखा जा सकता है. जिन होटलों में टीमें ठहरी हुई हैं, वहां आसपास तगड़ी सुरक्षा है.

लोगों में इस बात को लेकर भी चर्चा हो रही है कि क्या समापन समारोह में पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला आएँगे या नहीं. उम्मीद जताई जा रही है कि विजेता टीम को मंडेला ही ट्रॉफ़ी भेंट करेंगे.

समापन समारोह में शकीरा एक बार फिर वाका-वाका करेंगी, तो और कई नाच-गाने के कार्यक्रम रखे गए हैं. साथ ही अफ़्रीकी संस्कृति की झलक भी लोगों को डांस और गाने के ज़रिए देखने को मिलेगी.

संबंधित समाचार