क्या मुरलीधरन रचेंगे इतिहास?

मुरलीधरन
Image caption मुरलीधरन ने टेस्ट मैचों में 792 विकेटों के अलावा एकदिवसीय मैचों में 515 विकेट ले रखे हैं

भारत और श्रीलंका के बीच रविवार से तीन मैचों की टेस्ट सीरिज शुरू होने जा रही है. यह मैच श्रीलंका के गेंदबाज मुथैया मरलीधरन के लिए एक नया इतिहास बनाने का मौक़ा है.

मुरलीधरन के लिए यह आखिरी टेस्ट मैच है और वे 800वाँ टेस्ट विकेट लेने से सिर्फ़ आठ विकेट दूर हैं.

श्रीलंका के गॉल इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले जाने वाला यह मैच मुरलीधरन का 133वाँ टेस्ट मैच होगा.

साल 1993 के बाद से भारत ने श्रीलंका की धरती पर कोई टेस्ट सीरिज नहीं जीता है. हालांकि टीम इस बात को लेकर थोड़ी संतुष्ट होगी कि 2008 के दौरे में उन्होंने जो इकलौता टेस्ट मैच जीता था, वो इसी मैदान पर खेला गया था.

800वाँ विकेट

संवाददाताओं से बातचीत में मुरलीधरन ने कहा, "जाहिर है कि मुझ पर थोड़ा दबाव होगा क्योंकि यह मेरा आखिरी टेस्ट मैच है. लेकिन मैं इस क्षण का आनंद लेना चाहता हूं. अगर 800 विकेट का लक्ष्य हासिल हो जाता है तो यह मेरे लिए बोनस होगा. लेकिन मेरा उद्देश्य मैच जीतना होगा."

वहीं श्रीलंका के कप्तान कुमार संगकारा ने कहा, "इस मैच में हमारी ओर से शानदार प्रदर्शन ही मुरलीधरन को दिया जाने वाला सबसे बड़ा उपहार होगा. मुझे पूरा यकीन है कि अगर मुरलीधरन इस मैच में आठ विकेट ले लेते हैं, तो हम मैच जीतने में सफल होंगे."

गॉल का क्रिकेट ग्राउंड मुरलीधरन के पसंदीदा मैदानों में से एक रहा है. यहां उन्होंने 14 मैचों में कुल 103 विकेट लिए हैं.

मुरलीधरन ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत 1992 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच से की थी. उन्होंने एक मैच में 10 विकेट लेने का कारनामा 22 बार कर दिखाया है. एक टेस्ट पारी में उन्होंने रिकॉर्ड 66 बार पांच विकेट लेने का कीर्तिमान बनाया है.

भारत की समस्या गेंदबाजी

वहीं भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा है कि उनकी टीम इस सीरिज को काफी गंभीरता से ले रही है. हालांकि उन्होंने स्वीकार किया है कि टीम की एक खास समस्या गेंदबाज़ी है. तेज गेंदबाज़ ज़हीर खान और श्रीसंत चोटिल हैं.

वहीं अनुभवी स्पिनर हरभजन सिंह बुखार की वजह से अभी तक फिट नहीं हैं. धोनी ने कहा, "वो कुछ कमज़ोरी महसूस कर रहे हैं, लेकिन हमें उम्मीद है कि मैच शुरू होने के पहले वो सौ फ़ीसदी फिट हो जाएंगे."

भारतीय गेंदबाजी का भार इशांत शर्मा और मुनाफ़ पटेल के कंधों पर होगा.

दोनों ही टीमों ने एक दूसरे के खिलाफ कुल 32 मैच खेले हैं. भारत ने 13 और श्रीलंका ने पांच मैच जीते हैं.

हालांकि तेज बारिश की वजह से खेल का सारा रोमांच किरकिरा हो सकता है. शनिवार दोपहर से ही यहां तेज़ बारिश हो रही है. पूरे मैदान को ढककर रखा गया है. मौसम विभाग ने पांच दिनों तक ऐसा ही मौसम रहने की भविष्यवाणी की है.

संबंधित समाचार