सेक्स स्कैंडल पर गिल ने चुप्पी तोड़ी

एमएस गिल
Image caption एमएस गिल ने निष्पक्षता से निपटने का भरोसा दिलाया

केंद्रीय खेल मंत्री एमएस गिल ने आख़िरकार हॉकी और भारोत्तोलन में सेक्स स्कैंडल के आरोपों पर चुप्पी तोड़ी है और कहा है कि निष्पक्षता के साथ ऐसे मामलों से निपटा जाएगा.

संसद के बाहर पत्रकारों के साथ बातचीत में एमएस गिल ने कहा कि खेल मंत्रालय हॉकी और भारोत्तोलन में सेक्स स्कैंडल के आरोपों पर नज़र रखे हुए है. गिल ने कहा, "खेल मंत्रालय इस मामले को निष्पक्षता के साथ और पेशेवर अंदाज़ में निपटेगा."

दोनों ही मामलों में कोच पर गंभीर आरोप लगे हैं.

दोनों कोचों को निलंबित कर दिया गया है और जाँच जारी है. हॉकी में महिला टीम के कोच रहे एमके कौशिक पर कई खिलाड़ियों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए.

आरोप

अब ये मामला आपराधिक जाँच के लिए दिल्ली पुलिस के पास भेज दिया गया है. कोच के अलावा टीम के वीडियोग्राफ़र बसवराज की एक कॉल गर्ल के साथ कथित आपत्तिजनक तस्वीर का मामला भी चल रहा है.

बसवराज भी निलंबित कर दिए गए हैं. दूसरी ओर भारोत्तोलन में कोच रमेश मल्होत्रा पर जूनियर खिलाड़ियों के यौन उत्पीड़न के आरोप हैं.

उन्हें भी फ़िलहाल निलंबित कर दिया गया है. सिडनी ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली कर्णम मल्लेश्वरी ने भी इस मामले पर चुप्पी तोड़ी और रमेश मल्होत्रा को कठघरे में खड़ा किया.

मल्लेश्वरी ने फ़ेडरेशन के अधिकारियों को भी निशाने पर लिया है.

संबंधित समाचार