कलमाड़ी का इस्तीफ़े से इनकार

सुरेश कलमाड़ी
Image caption सुरेश कलमाड़ी ने राष्ट्रमंडल खेल के पदकों का लोकार्पण किया

राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति के अध्यक्ष सुरेश कलमाड़ी ने पिछले कई दिनों से जारी उठापटक और कई अधिकारियों को पद से हटाए जाने के बीच त्याग पत्र देने से इनकार कर दिया है.

दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों के लिए पदकों के लोकार्पण के मौक़े पर कलमाड़ी ने ये बयान दिया.

उन्होंने कहा, "मैं कह चुका हूँ कि मैं पद नहीं छोड़ रहा हूँ. हमारी पूरी टीम काफ़ी अच्छा काम कर रही है. खेल गाँव अगले 40 दिनों में खुलने वाला है जहाँ आठ हज़ार एथलीट आने वाले हैं इसलिए त्याग पत्र का तो सवाल ही पैदा नहीं होता."

इससे पहले भ्रष्टाचार और अनियमितता के आरोपों के बीच आयोजन समिति ने गुरुवार को तीन अधिकारियों को निलंबित कर दिया था.

निलंबित अधिकारी आयोजन समिति के संयुक्त निदेशक टीएस दरबारी, लेखा विभाग के संयुक्त निदेशक एम जयचंद्रन और समिति के सलाहकार संजय महेंद्रू हैं.

साथ ही सुरेश कलमाड़ी को उम्मीद है कि इन राष्ट्रमंडल खेलों में भारत पदक तालिका में तीसरे या दूसरे स्थान पर रह सकता है.

कलमाड़ी ने कहा, "पिछले राष्ट्रमंडल खेलों में भारत को 50 पदक मिले थे और इस बार हमें 70 पदक मिलने की उम्मीद है. भारत मेलबर्न में चौथे स्थान पर थे और इस बार हम तीसरे या दूसरे स्थान पर भी आ सकते हैं."

उनका कहना था, "प्रधानमंत्री ने एथलीटों के प्रशिक्षण के लिए हमें 700 करोड़ रुपए दिए थे और मुझे विश्वास है कि भारतीय पदक तालिका में उसका असर दिखेगा भी."

पदक के लोकार्पण के मौक़े पर कलमाड़ी ने बताया कि इन खेलों में कुल 272 स्वर्ण, 272 ही रजत और 282 काँस्य पदक दिए जाएँगे.

पदक में सामने दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों का प्रतीक चिह्न और तिथि है जबकि पीछे राष्ट्रमंडल खेल संघ का प्रतीक चिह्न बना है.

संबंधित समाचार

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है