फ़ेनेल ने खेल गाँव पर चिंता जताई

खेल गाँव

राष्ट्रमंडल खेल फ़ेडरेशन के अध्यक्ष माइकल फ़ेनेल ने खेल गाँव पर चिंता जताई है और कहा है कि फ्लैट्स को देखकर कई देशों को 'धक्का' लगा है.

उन्होंने एक बयान जारी कर कहा है कि गुरुवार को खेल गाँव खिलाड़ियों को खोल दिया गया है लेकिन फ़ेडरेशन के अधिकारियों ने 15 सितंबर को दौरा किया था और इस पर चिंता जताई थी.

उन्होंने भारत सरकार के कैबिनेट सचिव को एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने कहा है कि 'खेल गाँव की तैयारियों में गंभीर रूप से समझौता किया गया है.'

उनका कहना है,'' खेल गाँव किसी भी खेलों की जान होता है और खिलाड़ियों को यहाँ अपनी तैयारियों के लिए सर्वश्रेष्ठ सुविधाएँ उपलब्ध होनी चाहिए.''

हालांकि कुछ समय पहले फ़ेनेल ने सभी आयोजन स्थलों का दौरा किया था और उन्होंने खेल गाँव की स्थिति पर संतोष तो जताया था लेकिन कहा था कि वहाँ काम बाक़ी है.

प्रशंसा

दिलचस्प तथ्य ये है कि दूसरी ओर राष्ट्रमंडल खेलों में इंग्लैंड के प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख क्रेग हंटर ने खेल गाँव की जम कर तारीफ़ की है.

हंटर ने तो यहाँ तक कहा कि खेल गाँव बीजिंग ओलंपिक की तुलना में बेहतर है.

नई दिल्ली में पत्रकारों के साथ बातचीत में उन्होंने कहा, "राष्ट्रमंडल खेल गाँव बीजिंग ओलंपिक के मुक़ाबले बेहतर है. दिल्ली राष्ट्रमंडल खेल वर्ष 2012 के लंदन ओलंपिक के लिए एक बड़ा मानदंड स्थापित करेगा."

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति ने पत्रकारों को भी खेल गाँव की सैर कराई थी.

संबंधित समाचार