अब भारत की मेज़बानी पर सवाल

राष्ट्रमंडल खेल
Image caption आयोजन की तैयारी की आलोचना हो रही है

ऑस्ट्रेलियन ओलंपिक समिति के अध्यक्ष जॉन कोट्स ने कहा है कि राष्ट्रमंडल खेलों की मेज़बानी भारत को नहीं मिलनी चाहिए थी.

उन्होंने कहा कि राष्ट्रमंडल खेल फ़ेडरेशन के पास खेलों की तैयारी की प्रगति की निगरानी करने के लिए संसाधन नहीं हैं और न ही ये सुनिश्चित करने के संसाधन हैं कि निर्माण कार्य समयसीमा पर ख़त्म हों.

दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारी समय पर पूरी न हो पाने और ख़राब व्यवस्था के कारण आयोजन समिति की कड़ी आलोचना हो रही है.

खेल गाँव की बदहाली: तस्वीरों में

कई टीमों ने अपनी भारत रवानगी में देरी की है. लेकिन इंग्लैंड की टीम भारत पहुँच गई है.

भरोसा

भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के हस्तक्षेप पर गुरुवार को बुलाई गई बैठक के बाद तैयारी और तेज़ करने का भरोसा दिलाया गया है.

इंग्लैंड की टीम के एक वरिष्ठ अधिकारी एंड्रयू फ़ोस्टर ने बीबीसी के साथ बातचीत में कहा है कि खेल गाँव की स्थिति में अच्छा सुधार हुआ है.

कुछ दिन पहले कुछ देशों के प्रतिनिधियों ने खेल गाँव की स्थिति पर गंभीर सवाल उठाए थे.

राष्ट्रमंडल खेल फ़ेडरेशन के अध्यक्ष माइक फ़ेनेल और मुख्य कार्यकारी अधिकारी माइक हूपर ने भी खेल गाँव की स्थिति पर चिंता जताई थी.

बाद में आयोजन समिति के अध्यक्ष सुरेश कलमाडी ने स्थिति में सुधार की बात कही थी. गुरुवार को भारतीय एथलीट और प्रतिनिधि खेल गाँव पहुँच गए हैं.

संबंधित समाचार