भारत के पास 30 स्वर्ण पदक

Image caption तेजस्विनी सावंत कई अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताएँ जीत चुकी हैं

राष्ट्रमंडल खेलों के आठवें दिन भारत की कृष्णा पुनिया ने डिस्कस थ्रो में स्वर्ण पदक जीता है. ये इस राष्ट्रमंडल में भारत का 30वाँ स्वर्ण था.

डिस्कस थ्रो के तीन पदक भारतीय महिलाओं को मिले. कृष्णा पुनिया को स्वर्ण, हरवंत कौर को रजत और सीमा एंटिल को कांस्य पदक मिला है.

भारत को निशानेबाज़ी और बॉक्सिंग में चार कांस्य पदक मिले हैं. तेजस्विनी सांवत और मीना कुमारी की जोड़ी ने 50मीटर राइफ़ल प्रोन पेयर्स में कांस्य पदक हासिल किया है.जबकि अमनदीप सिंह को मुक्केबाज़ी की लाइट फ्लाइवेट श्रेणी में कांस्य पदक मिला.

वहीं 60 किलोग्राम लाइटवेट वर्ग में मुक्केबाज़ जयभगवान ने कांस्य पदक जीता है. मुक्केबाज़ दिलबाग सिंह अपना मुकाबला हार गए और 69 किलोवर्ग में कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा.

भारत को सबसे बड़ा झटका उस समय लगा जब विजेंदर अपना मुक़ाबला हार गए. सेमी फ़ाइनल में फ़ाउल के कारण उनके प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी को दो अंक मिल गए और इस कारण विजेंदर 3-4 से मैच हार गए. उन्हें भी कांस्य से संतोष करना पड़ा.

मुक्केबाज़ी टीम ने विजेंदर के ख़िलाफ़ अंक देने के फ़ैसले का आधिकारिक विरोध किया, लेकिन उनकी अपील ठुकरा दी गई. अब मुक्केबाज़ी में सुरंजॉय और मनोज कुमार से भारत को पदक की उम्मीद है. दोनों अपना-अपना मैच जीतकर फ़ाइनल में पहुँचे.

बैडमिंटन

राष्ट्रमंडल खेलों के आठवें दिन बैडमिंटन में भारत को क्वार्टर फ़ाइनल मुकाबलों में मिले जुले नतीजे मिले. स्वर्ण पदक की प्रबल दावेदार साइना नेहवाल कनाडा की एना राइस को 21-7 और 21-10 से हराकर सेमी फ़ाइनल में पहुँच गई हैं.

पुरुष सिंग्लस में चेतन आनंद और पी कश्यप सेमीफ़ाइनल में पहुँच गए हैं.

चेतन आनंद ने बेहतरीन खेल दिखाते हुए इंग्लैंड के सी बैक्सटर को 21-17, 21-9 से हराया. उन्हें बहुत ज़्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ी.

वहीं पी कश्यप का मुकाबला मलेशिया के मोहम्मद हाशिम के साथ था जो 2002 के खेलों में स्वर्ण जीत चुके हैं. कश्यप पहली गेम 19-21 से हार गए थे लेकिन इसके बाद उन्होंने हाशिम को मौका नहीं दिया और अगली दो गेम 21-19, 21-16 से जीत ली.

महिला डबल्स में ज्वाला गुट्टा और अश्विनी की जोड़ी को इंग्लैंड की जोड़ी को हराने में कोई भी दिक्कत नहीं हुई. भारतीय जोड़ी मुकाबला 21-19, 21-14 से जीत गई. भारतीय जोड़ी सेमीफ़ाइनल में पहुँच गई है.

लेकिन मिक्सड डबल्स में ज्वाला और उनके जोड़ीदार वी दीजू उतने भाग्यशाली नहीं रहे. वे मलेशिया की जोड़ी से 13-21, 19-21 से हार गए.

इस बीच महिलाओं की 100 मीटर फ़र्राटा दौड़ की स्वर्ण पदक विजेता नाइजीरिया की ओसायेमी ओलुदामोला ड्रग टेस्ट में विफल हो गई हैं.

खेल महासंघ के राष्ट्रपति माइक फ़ेनेल ने कहा कि ओलुदामोला ने अब 'बी' सैंपल यानी दूसरे नमूने के भी परीक्षण की माँग की है. इस बारे में सोमवार शाम को सुनवाई होगी.

रविवार को भारत ने कुल पाँच स्वर्ण जीते थे. ये पदक निशानेबाज़ी, टेनिस और कुश्ती में मिले.

संबंधित समाचार