दिल्ली राष्ट्रमंडल में दूसरा डोप मामला

ओकॉन
Image caption ओकॉन छठे नंबर पर रहे थे

दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में एक और डोपिंग का मामला सामने आया है. 110 मीटर बाधा दौड़ में नाइजीरियाई धावक सैमुअल ओकॉन ड्रग टेस्ट में फ़ेल हो गए हैं.

दिल्ली राष्ट्रमंडल के दौरान वे दूसरे ऐसे एथलीट हैं, जो ड्रग टेस्ट में नाकाम हुआ है.

राष्ट्रमंडल खेल फ़ेडरेशन के अध्यक्ष माइक फ़ेनेल ने इस बात की घोषणा की. उन्होंने कहा, "नाइजीरिया के सैमुअल ओकॉन प्रतिबंधित मिथाइल हेक्सानिमाइन लेने के दोषी पाए गए हैं."

ये दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में दूसरा डोप स्कैंडल है.

दोषी

पहले नाइजीरिया की ही महिलाओं की 100 मीटर की चैम्पियन ओसायेमी ओलुडामोला को यही दवा लेने का दोषी पाया गया था.

ओसायेमी का 'बी' सैंपल जाँच के लिए गया और इसमें भी वे दोषी पाई गईं है. अब उनसे स्वर्ण पदक छीन लिया गया है.

अब सेंट विंसेंट और ग्रेनाडा की नताशा मेयर्स को स्वर्ण मिल गया है, रजत पदक इंग्लैंड की कैथरिन एंडेकॉट को और कांस्य कैमरुन की बर्टाइल डेल्फ़ाइन अटनगाना को मिल गया है.

नाइजीरियाई धावक ओसायेमी को ऑस्ट्रेलियाई सैली पियर्सन का स्वर्ण पदक छिन जाने के बाद राष्ट्रमंडल चैम्पियन घोषित किया गया था.

पियर्सन पर समय से पहले ही दौड़ शुरू करने के आरोपों की जाँच हुई थी और उसके बाद उनका स्वर्ण छिना था.

संबंधित समाचार