रोंजन सोढ़ी को स्वर्ण पदक

Image caption रोंजन सोढ़ी को निशानेबाज़ी में स्वर्ण पदक मिला है.

भारतीय निशानेबाज़ रोंजन सोढ़ी ने एशियाड में निशानेबाज़ी के डबल ट्रैप मुक़ाबले में स्वर्ण जीत लिया है. ये एशियाड में भारत का तीसरा स्वर्ण है.

इसी प्रतियोगिता के टीम मुक़ाबले में भारत को काँस्य पदक भी हासिल हुआ है.

क्वालिफ़िकेशन दौर में सोढ़ी चीन के पैन चियांग से चार अंकों से पीछे थे जबकि उन्होंने 139 अंक बनाए थे. पैन के 143 अंक थे.

मगर फ़ाइनल में सोढ़ी के सिर्फ़ तीन निशाने चूके और उन्होंने 186 अंकों के साथ आसानी से स्वर्ण पर क़ब्ज़ा कर लिया.

वहीं पैन कोई भी पदक नहीं जीत सके.

क्वालिफ़िकेशन दौर में सोढ़ी ने पहली बार में 47 अंक बनाए मगर उनकी दूसरी सिरीज़ अच्छी नहीं रही जबकि वो सिर्फ़ 44 अंक ही जुटा सके.

अंतिम सिरीज़ में सोढ़ी ने वापसी की और सिर्फ़ दो बार निशाना चूकते हुए 48 अंक बनाए.

इसके बाद फ़ाइनल में सोढ़ी और पैन के बीच कुछ देर तक कड़ा मुक़ाबला रहा मगर धीरे-धीरे पैन पिछड़ने लगे.

फ़ाइनल में सोढ़ी के 47 और पैन के सिर्फ़ 38 अंक ही बने. मुक़ाबले का रजत संयुक्त अरब अमीरात के शेख़ अल मक्दूम ने जीता जबकि उन्होंने कुल 182 अंक हासिल किए.

काँस्य पदक के लिए क़तर के हमाद अली अल मारी, कुवैत के फहद अलदीहानी और चीन के पैन चियांग के बीच मुक़ाबला हुआ मगर पदक कुवैत के पास गया.

इससे पहले टीम मुक़ाबले में चीन ने स्वर्ण पदक जीता और रजत कुवैत को मिला.

भारत के रोंजन सोढ़ी, अशर नोरिया और विक्रम भटनागर की टीम काँस्य जीत सकी.

सोढ़ी के 139 के अलावा, नोरिया ने 134 और भटनागर ने 134 अंक जुटाए. तीनों के मिलाकर भारत को कुल 403 अंक मिले जो कि रजत पाने वाले कुवैत से चार अंक और स्वर्ण जीतने वाले चीन से 11 अंक कम थे.

संबंधित समाचार