नन्हे जाफ़र का बड़ा रिकॉर्ड

अरमान जाफ़र
Image caption अरमान जाफ़र अपने पिता और कोच को अपनी सफलता का श्रेय देते हैं

भारतीय क्रिकेट में कई रिकॉर्ड गढ़ने वाले बल्लेबाज़ देने वाले शहर मुंबई में एक और बालक ने हैरान कर देने वाली पारी खेली है.

पूर्व भारतीय ओपनर वसीम जाफ़र के 13 वर्षीय भतीजे अरमान जाफ़र ने मुबंई की स्कूल क्रिकेट की अंडर-14 प्रतियोगिता के एक मैच में 498 रन का स्कोर बनाया है.

ये मुबंई के स्कूल क्रिकेट में सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर है.

बांद्रा के रिज़वी स्प्रिंगफ़ील्ड स्कूल के लिए खेलते हुए अरमान ने दादर के राजा शिवाजी स्कूल के ख़िलाफ़ 77 चौक्कों की मदद से 490 गेंदों पर 498 का बड़ा स्कोर खड़ा किया.

'सचिन हैं आदर्श'

Image caption अरमान सचिन को अपना आदर्श मानते हैं

दक्षिण मुंबई के क्रॉस मैदान पर अरमान जाफ़र 500 रन पूरे करने से पहले विकेटकीपर के हाथों कैच थमा बैठे.

चौदह वर्ष से कम उम्र के स्कूली बच्चों की गाइल्स शील्ड में अरमान जाफ़र ने अपनी पारी के दौरान विरोधी टीम को कोई विशेष अवसर नहीं दिया.

रनों का अंबार लगाकर अरमान ने अंडर-14 श्रेणी में परिक्षित वालसानकर के 366 रनों को रिकॉर्ड को तोड़ा है.

बुधवार सुबह अरमान जाफ़र ने 295 रनों से आगे खेलना शुरू किया था. वे सचिन तेंदुलकर को अपना आदर्श मानते हैं.

आठ घंटे से भी अधिक विकेट पर बने रहने के बाद अरमान जाफ़र ने कहा, "मेरे आदर्श सचिन तेंदुलकर हैं. मैं रिकॉर्ड बनाने के लिए नहीं खेल रहा था लेकिन मैं जब तक संभव हो बैटिंग करते रहना चाहता था."

संबंधित समाचार