गुजरात ने तोड़ा मैक्सिको का रिकॉर्ड

चेस
Image caption गुजरात ने गिनेस वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज किया

गुजरात की राजधानी अहमदाबाद में 20,480 शतरंज ख़िलाड़ियों ने एक छत के नीचे शतरंज खेलकर दुनिया में एक नया रिकॉर्ड क़ायम किया है.

इन खिलाड़ियों ने मैक्सिको के रिकॉर्ड को तोड़ 'गिनीज़ वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स' में अपना नाम दर्ज करा लिया है.

मैक्सिको ने वर्ष 2006 में ये रिकॉर्ड क़ायम किया था. मैक्सिको सिटी में हुए उस मुक़ाबले में 13,446 ख़िलाड़ियों ने भाग लिया था.

गुजरात में हुई इस प्रतियोगिता के लिए 92 हज़ार लोगों ने अपने नाम दिए थे और आख़िर में 20,480 लोगों को इस रिकॉर्ड का हिस्सा बनने का अवसर मिला.

इन लोगो को समूहों में बांट कर, हर समूह के साथ एक या दो चेस मास्टरों ने शतरंज खेली.

मुक़ाबला

इस प्रतियोगिता के लिए 'गुजरात चेस एसोसिएशन' ने 1200 चैस मास्टरों को बुलाया था.

इन मुक़ाबलों के बाद फ़ाइनल दौर में पहुंचे खिलाड़ियों के साथ विश्व चैपियन विश्वानाथन आनंद ने भी शंतरज खेली.

गुजरात के खेल मंत्री फ़कीरभाई राघाभाई वघेला ने बीबीसी को बताया कि 24 दिसंबर 2000 को विश्वनाथन आनंद वर्ल्ड चैपियन बने थे इसलिए इस दिन को इस प्रतियोगिता के लिए चुना गया.

वर्ष 2004 में हुई कॉमनवेल्थ चेस प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक और अर्जुन पुरस्कार से नवाज़े गए भारतीय शतरंज खिलाड़ी दिब्येंदु बरुआ का कहना है कि ऐसी प्रतियोगिता से बच्चों को प्रोत्साहन मिलता है.

दिब्येंदु बरुआ ने बीबीसी को बताया," ये रिकॉर्ड टूटा है तो दूसरा रिकॉर्ड कायम हो जाएगा लेकिन इतनी बड़ी संख्या में ख़िलाड़ियों का शामिल होना ये दर्शाता है लोगों की शतरंज में दिलचस्पी बढ़ रही है और लोग जागरूक हो रहें हैं. अगर अन्य शहरों में ऐसी प्रतियोगिताएं की जाती है तो इससे शतरंज की लोकप्रियता और बढ़ेगी. "

ये मुक़ाबला अहमदाबाद जीएमडीसी मैदान में हुआ था.

संबंधित समाचार