बीबीसी फन एंड गेम्स

सचिन तेंदुलकर
Image caption दक्षिण अफ्रीका के साथ खेले गए तीसरे टेस्ट के दौरान सचिन ने अपने करियर की 51वीं टेस्ट सेंचुरी लगाई

अगर सचिन तेंदुलकर क्रिकेट नहीं खेल रहे होते तो वो कौन से खेल में अपना नाम रोशन करते. इस सवाल का जवाब है टेनिस.

सचिन को बचपन से ही टेनिस का बड़ा शौक है. एक वक़्त था जब वो टेनिस के महान खिलाड़ी जॅान मैकनरो को देख कर बस टेनिस ही खेलना चाहते थे.

लेकिन ऐसा हुआ नहीं. और इसकी क्या वजह रही ये आप सुन सकते हैं बीबीसी फन एंड गेम्स की इस अंक में. दक्षिण अफ्रीका के साथ खेले गए तीसरे टेस्ट के दौरान सचिन तेंदुलकर ने अपने करियर की 51वीं टेस्ट सेंचुरी लगाई. सचिन कहते हैं की क्रिकेट हो या फिर कोई और खले उसे सीमा में रह कर ही खेलना चाहिए. क्रिकेट के इतिहास में पहली बार भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के साथ टेस्ट सिरीस हारे बिना घर वापस लौटेगी. भारत ने ये सिरीस बराबरी पर ख़त्म की.

टीम की कामयाबी पर कप्तान महेंदर सिंह धोनी का कहना था कि ये पूरी दल की मेहनत का नतीजा है.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
Image caption सोमदेव को ऑस्ट्रेलियन ओपन में वाईलड कार्ड एंट्री मिल गयी है

बीबीसी फन एंड गेम्स के इस अंक में आप सुन सकते हैं धोनी को, जो कह रहे हैं कि दक्षिण अफ्रीका एक मज़बूत टीम है और उसके साथ मुकाबला हमेशा ही कठिन होता है. धोनी ये भी कहते हैं कि इस टेस्ट श्रृंखला के दौरान कई खिलाडियों ने बढ़िया प्रदर्शन किया. कार्यक्रम में सिर्फ क्रिकेट ही नहीं बल्कि टेनिस और फुटबाल पर भी चर्चा हो रही है.

चेन्नई ओपन टेनिस मुकाबले में कुछ खास नहीं कर पाए भारत के सोमदेव देववर्मन. लेकिन बावजूद इसके उन्हें ऑस्ट्रेलियन ओपन में वाईलड कार्ड एंट्री मिल गयी है.

सोमदेव कहते हैं कि चेन्नई ओपन में उन्होंने अपनी क्षमता के मुताबिक नहीं खेला. कई जगह वो अपने खेल को सुधारना चाहते हैं. कतर में फुटबाल का एशिया कप मुकाबला चल रहा है. 27 साल बाद भारत इस टूर्नामेंट में भाग ले रहा है.

भारत के ग्रुप में ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण कोरीया और बहरीन जैसी टीमें हैं. भारतीय टीम की परेशानी ये नहीं है की उसके ग्रुप में इनती मज़बूत टीमें हैं.

बल्कि भारतीय दल की परेशानी है खिलाडियों की फिटनेस. टीम में कई खिलाड़ी चोट ग्रस्त हैं. ऐसे में 27 साल बाद मिले इस मौके का कैसे फायदा उठा पायेगी टीम इंडिया.

संबंधित समाचार