'पठान ने जीत छीन ली'

Image caption पठान ने अपना स्वाभाविक खेल खेला.

दक्षिण अफ़्रीका के कप्तान ग्रैम स्मिथ ने कहा है कि तीसरे एक दिवसीय मैच में यूसुफ़ पठान की धुआंधार पारी ने उनकी टीम को धराशायी कर दिया.

यूसुफ़ पठान ने 50 गेंदों में 59 रन बनाकर मैन ऑफ़ दी मैच का ख़िताब भी हासिल किया.

दोनों ही टीमों का प्रदर्शन काफ़ी हद तक एक सा ही था और पठान जीत और हार के बीच का अंतर साबित हुए.

पठान ने सभी गेंदबाज़ो, ख़ासकर स्पिनरों की जमकर धुनाई की और उन्हें मैदान के हर कोने में पहुंचाया.

स्मिथ का कहना था, “ये हार काफ़ी निराशाजनक रही. शायद हमने 20 रन कम बनाए लेकिन पठान की पारी ने सब कुछ मटियामेट कर दिया.”

स्वाभाविक खेल

कप्तान स्मिथ का कहना था केपटाउन की पिच एक दिवसीय मैच के लिए बहुत अच्छी नहीं थी और पठान को छोड़कर ज़्यादातर बल्लेबाज़ संघर्ष करते नज़र आए.

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी पठान की तारीफ़ करते हुए कहा कि पठान अपना स्वाभाविक खेल खेलते रहें तो अच्छा रहता है.

उनका कहना था, “निचले मध्यक्रम ने अच्छी बल्लेबाज़ी की लेकिन पठान बेहद अच्छा खेले. वो अपना स्वाभाविक खेल खेले और मैं चाहता हूं कि वो ऐसा ही खेलते रहें.”

धोनी ने अपने गेंदबाज़ों के प्रदर्शन की भी सराहना की. उनका कहना था कि आखिरी ओवरों में बल्लेबाज़ों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया.

भारतीय गेंदबाज़ों ने दक्षिण अफ़्रीका की पारी को 220 रनों पर समेट लिया था और उन्हें जीत के लिए 221 की ज़रूरत थी.

भारतीय बल्लेबाजों ने 48.2 ओवरों में लक्ष्य प्राप्त कर लिया और श्रृंखला में 2-1 की बढ़त ले ली है.

मैन ऑफ दी मैच चुने जाने के बाद पठान का कहना था, “ये हमारे लिए काफ़ी अच्छी जीत है. मैंने अपना स्वाभाविक खेल खेला है.”

संबंधित समाचार