नोकझोंक के बीच पेस-भूपति जीते

इंडियन एक्सप्रेस यानी लिएंडर पेस और महेश भूपति की जोड़ी ऑस्ट्रेलियन ओपन के तीसरे दौर में पहुँच गई है.

लेकिन इस जीत के दौरान पेस-भूपति की अपनी प्रतिदंद्वी जोड़ी के साथ अच्छी ख़ासी नोकझोंक हो गई और नौबत यहाँ तक आ गई कि अंपायरों को आकर खिलाड़ियों को शांत करना पड़ा.

लिएंडर पेस और महेश भूपति का मुकाबला स्पेन के फ़लिसियानो लोपेज़ और अर्जेंटीना के ख़ुवान मोनेको से था. भारतीय जोड़ी ने मैच 7-6, 6-4 से जीत लिया.

पर मैच में नाटकीय मोड़ तब आया जब दोनों जोड़ियाँ नेट पर एक दूसरे से भिड़ गईं.

पेस-भूपति के तेवर

रॉयटर्स के मुताबिक मैच के बाद भूपति ने बताया, “स्पेन के लोपेज़ और अर्जेंटीना के मोनेको इस बात पर नाराज़ हो गए कि मैच में हम लोग अपना उत्साह बढ़ाने के लिए बार-बार स्पेनिश शब्द वैमोस का प्रयोग कर रहे थे.( अंग्रेज़ी में कम ऑन). मुझे नहीं लगता कि इस शब्द पर उनका कोई पेटेंट है जो वो नाराज़ हो रहे थे.”

वहीं पेस ने कहा कि वे इस शब्द का इस्तेमाल पिछले 16-17 वर्षों से करते आ रहे हैं.भूपति का ये भी आरोप था कि प्रतिदंद्वी जोड़ी जानबूझकर पेस को चोट पहुँचाने की कोशिश कर रही थी.

वहीं स्पेन के खिलाड़ी लोपेज़ का कहना था कि पेस पूरा समय उन्हें उकसाने की कोशिश करते रहे. लोपेज़ के मुताबिक पेस के खेलने के स्टाइल से वे तंग आ गए थे.

पूरे घटनाक्रम के बाद खिलाड़ियों का पारा इतना बढ़ गया कि दोनों टीमें नेट पर आकर एक दूसरे से बहस करने लगीं.

हालांकि बाद में महेश भूपति ने कहा कि खेल के दौरान ऐसा हो जाता है. उनका कहना था, “मैच के दौरान गर्मी भी बहुत थी. हम लोग एक दूसरे को हराने की कोशिश कर रहे थे और कुछ ग़ैर-ज़रूरी बातें कहीं गई. मुझे लगता है सब ठीक हो जाएगा.”

अगले दौर में पेस-भूपति का मुकाबला स्पेन की जोड़ी टॉमी रॉब्रेडो और मार्सेल से होगा.पेस-भूपति करीब करीब एक दशक बाद इकट्ठे किसी ग्रैंड स्लैम में खेल रहे हैं.

संबंधित समाचार