जीत के साथ भारत पूल में शीर्ष पर

महेंद्र सिंह धोनी इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption युवराज सिंह ने बल्लेबाज़ी करते हुए अर्द्धशतक जमाया और पाँच विकेट भी लिए

युवराज सिंह के अर्द्धशतक और गेंदबाज़ी में लिए पाँच विकटों के सहारे भारत ने आयरलैंड को पाँच विकेट से हरा दिया है.

आयरलैंड के 207 रनों का पीछा करते हुए भारत ने 46वें ओवर की अंतिम गेंद पर यूसुफ़ पठान के चौके की मदद से 210 रन पूरे कर लिए. युवराज 50 रनों के स्कोर पर और यूसुफ़ 24 गेंदों में 30 रन बनाकर नॉट आउट रहे.

इस जीत के साथ ही भारत पूल बी में तीन मैचों के बाद पाँच अंकों के साथ शीर्ष पर आ गया है. इंग्लैंड के भी चार मैचों में पाँच अंक हैं मगर बेहतर रन औसत के आधार पर भारत पहले नंबर पर है.

भारत ने 100 रनों के स्कोर पर ही वीरेंदर सहवाग, गौतम गंभीर, सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली के विकेट गँवा दिए थे.

इसके बाद युवराज सिंह ने कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ मिलकर पाँचवें विकेट के लिए 67 रनों की साझेदारी की.

धोनी जॉर्ज डॉकरेल की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए. उस समय वह 34 रनों के स्कोर पर थे.

उसके बाद आए यूसुफ़ पठान ने डॉकरेल की अगली पाँच गेंदों में दो पर छक्के और एक पर चौका लगा दिया.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption तेंदुलकर ने रुककर खेलते हुए 38 रन बनाए

इससे पहले सचिन एक बार फिर रुककर बल्लेबाज़ी करने की कोशिश कर रहे थे मगर डॉकरेल की एक गेंद को स्वीप करने की कोशिश में जब वह घुटने पर बैठे तो गेंद सीधे उनकी जाँघ पर लगी और वह एलबीडब्ल्यू आउट हो गए.

उस समय तेंदुलकर ने 56 गेंदों में 38 रन बनाए थे. भारतीय पारी के पहले विकेट के रूप में सहवाग पाँच रन बनाकर आउट हुए मगर लगातार तीसरे मैच में उन्होंने भारतीय पारी की पहली ही गेंद पर चौका जमाया.

मगर उसके बाद ट्रेंट जॉन्स्टन की गेंद उनके बल्ले से लगकर वापस जॉन्स्टन के पास चली गई और इस तरह सहवाग आउट हो गए. सहवाग के बाद आए गौतम गंभीर भी जमकर नहीं खेल सके.

एक बार फिर उनका विकेट भी जॉन्स्टन को ही मिला जबकि शॉर्ट फ़ाइन लेग पर जॉन क्यूसैक ने उनका कैच पकड़ा. गंभीर ने 10 रन बनाए.

तेंदुलकर के आउट होने के बाद युवराज सिंह और विराट कोहली स्कोर को आगे बढ़ा रहे थे कि इसी बीच युवराज के स्क्वायर की ओर लगाए गए एक शॉट पर कोहली आधे से ज़्यादा दूरी पार कर गए.

युवराज सिंह क्रीज़ से हिले भी नहीं और कोहली को वापस लौटना पड़ा मगर तब तक डॉकरेल के थ्रो पर केविन ओ ब्रायन ने उन्हें रन आउट कर दिया.

आयरलैंड की पारी

आयरलैंड की पारी युवराज सिंह के पाँच विकेटों की मदद से भारत ने 207 रनों के स्कोर पर समेट दी थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption युवराज सिंह ने बेहतरीन गेंदबाज़ी करते हुए पाँच विकेट लिए

भारत ने टॉस जीतकर पहले फ़ील्डिंग का फ़ैसला किया था और ज़हीर ख़ान ने अपने पहले दोनों ओवरों में दो विकेट झटक भी लिए थे मगर उसके बाद कप्तान विलियम पोर्टरफ़ील्ड और नायल ओ ब्रायन ने मिलकर तीसरे विकेट के लिए 113 रनों की साझेदारी की.

नायल ओ ब्रायन 46 रन बनाकर युवराज सिंह की एक गेंद पर रन आउट हो गए.

उसके बाद आए एंड्रयू व्हाइट ने पाँच ही रन बनाए थे कि युवराज सिंह की एक गेंद ने उनके बल्ले का किनारा लिया और धोनी के हाथों में जा पहुँची.

चार विकेट गिरने के बाद केविन ओ ब्रायन मैदान में आए. केविन ने इंग्लैंड के विरुद्ध जो आतिशी पारी खेली थी उसे याद करके स्टेडियम में उत्साह बढ़ गया मगर युवराज सिंह की एक गेंद को केविन ने युवराज की ओर ही उठा दिया जिसे आसानी से उन्होंने कैच कर लिया.

कप्तान पोर्टरफ़ील्ड भी युवराज का ही शिकार बने थे जब उन्होंने एक गेंद को उठाकर कवर की ओर खेला मगर हरभजन सिंह ने कैच पकड़ने में कोई ग़लती नहीं की. उस समय पोर्टरफ़ील्ड ने 75 रन बनाए थे.

अंत में लुढ़के

आयरलैंड की पारी के अंत की ओर एलेक्स क्यूसैक और ट्रेंट जॉन्स्टन ही कुछ टिककर खेल सके. क्यूसैक को 24 रनों के स्कोर पर युवराज सिंह ने एलबीडब्ल्यू आउट किया.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption नायल ओ ब्रायन और विलियम पोर्टरफ़ील्ड ने मिलकर 113 रनों की साझेदारी की

वहीं जॉन्स्टन 17 रन बनाकर मुनाफ़ पटेल का शिकार बने. युवराज ने 31 रन देकर पाँच विकेट लिए और वनडे में ये उनका अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था.

इस तरह युवराज सिंह के पाँच विकेटों के अलावा ज़हीर ख़ान ने तीन और पटेल ने एक विकेट लिया.

इससे पहले भारत ने इंग्लैंड के विरुद्ध उतारी टीम में कोई बदलाव नहीं किया जबकि आयरलैंड ने एंड्रयू व्हाइट की जगह गैरी विल्सन को शामिल किया है.

भारत ने बंगलौर के पिछले दो मैचों के नतीजे को ध्यान में रखते हुए इस बार फ़ील्डिंग का फ़ैसला किया.

भारत और इंग्लैंड के बीच पिछले रविवार को हुए मैच में भारत ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 338 रन बनाए थे. इसके बाद इंग्लैंड ने उस स्कोर का पीछा करते हुए 338 रन पा लिए थे.

इसके बाद इंग्लैंड और आयरलैंड के बीच जब बंगलौर में मैच हुआ तो इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 327 रन बनाए.

इसका पीछा करते हुए आयरलैंड ने केविन ओ ब्रायन के बेहतरीन शतक की मदद से जीत हासिल करके विश्व कप का सबसे बड़ा उलट-फेर किया था.

टीमें-

आयरलैंड- विलियम पोर्टरफ़ील्ड, एलेक्स क्युसेक, नायल ओ ब्रायन, केविन ओ ब्रायन, जॉर्ज डॉकरेल, ट्रेंट जॉनसन, जॉन मूनी, बॉयड रैंकिंन, पॉल स्टर्लिंग, एंड्रयू व्हाइट, एड जॉयस

भारत- महेंद्र सिंह धोनी, वीरेंदर सहवाग, गौतम गंभीर, सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, युवराज सिंह, यूसुफ़ पठान, हरभजन सिंह, पीयूष चावला, ज़हीर ख़ान, मुनाफ़ पटेल

संबंधित समाचार