'बांग्लादेश का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन बाक़ी'

इमेज कॉपीरइट Reuters (audio)
Image caption तमीम इकबाल

बांग्लादेश के सलामी बल्लेबाज़ तमीम इक़बाल का कहना है कि बांग्लादेश अपनी सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट न खेल पाने के बावजूद क्वार्टर फ़ाइनल में पहुँचने के क़रीब है.

आक्रामक बल्लेबाज़ तमीम का कहना है, "अगर हम क्वार्टर फ़ाइनल में पहुँचते हैं तो यह बड़ी बात होगी क्योंकि टूर्नामेंट से पहले हमने यही अपना लक्ष्य बनाया था. हमने अभी तक अपनी सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट नहीं खेली है. हम इससे बेहतर खेल सकते हैं."

बांग्लादेश प्रतियोगिता की अकेली टीम है जिसे अपने सभी लीग मैचों को अपने देश में खेलने का लाभ मिला है.

वह अब तक इंग्लैंड और दो कमज़ोर टीमों आयरलैंड और नीदरलैंड्स को हरा चुके हैं. लेकिन वह अपना पहला मैच भारत से हार चुके हैं और वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ अपने सबसे न्यूनतम स्कोर 58 पर आउट हो चुके हैं.

तमीम कहते हैं कि अगर वह क्वार्टर फ़ाइनल में न भी पहुँचे तब भी उनका कोई नुक़सान नहीं होने वाला.

उनका उद्देश्य कम से कम तीन मैच जीतना था और यह लक्ष्य उन्होंने पहले ही प्राप्त कर लिया है.

चिंता नहीं

अगर वह एक जीत और हासिल करते हैं तो यह सोने पर सुहागा होगा. तमीम ख़ुद अपनी फ़ॉर्म के बारे में चिंतित नहीं हैं.

भारत के ख़िलाफ़ 70 रन बनाने के बाद उनका स्कोर 44,0,38 और 0 रहा है. इस प्रतियोगिता में बांग्लादेश की तरफ़ से कोई शतक या शतकीय भागीदारी नहीं हुई है.

तमीम का मानना है, "मैंने एक बार 70 और दो बार क़रीब-क़रीब 40 रनों की पारी खेली है. तीन साल पहले इस तरह के स्कोर सबको ख़ुश रखते, लेकिन मैंने अपने ख़ुद के स्तर को बढ़ा लिया है. इसलिए आप मेरे 40 के स्कोर को भी असफलता मानते हैं."

तमीम रविवार को 22 साल के होने वाले हैं. विश्व कप में उनका लक्ष्य हर मैच में सबसे ज़्यादा स्कोर करना था.

भारत और आयरलैंड के ख़िलाफ़ ही वह अपना लक्ष्य पूरा कर पाए हैं. 94 एक दिवसीय मैचों में वह तीन शतकों के साथ 2792 रन बना चुके हैं.

संबंधित समाचार