भारत का पलड़ा भारी: इमरान

भारतीय क्रिकेट टीम
Image caption विशेषज्ञों के मुताबिक़ फ़ाइनल में भारत के ज़्यादा अवसर हैं.

भारत-पाकिस्तान के बीच हुए सेमीफ़ाइनल मैच का रोमांच अब थम चुका है.

भारत की जीत के जश्न पर अब विराम लग चुका है और सारी निगाहें अब भारत और श्रीलंका पर लग चुकी हैं जो मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में शनिवार को आमने-सामने होंगी.

दोनों ही टीमें बेहतरीन क्रिकेट खेलकर फ़ाइनल तक पहुंची हैं. और सभी को उम्मीद है कि वानखेड़े में भी शानदार खेल देखने को मिलेगा. लेकिन पूर्व क्रिकेटरों का मानना है कि पलड़ा थोड़ा भारत की ओर झुका हुआ है.

पाकिस्तान के महान ऑलराउंडर और 1992 विश्व कप विजेता टीम के कप्तान इमरान ख़ान कहते हैं, "सेमीफ़ाइनल में भारत, पाकिस्तान के ख़िलाफ़ ज़बरदस्त दबाव में खेलकर फ़ाइनल तक पहुंचा है. उनका आत्मविश्वास अपने चरम पर है. ऐसे में भारत के जीतने के बेहतर अवसर हैं."

इमरान ने भारतीय टीम को सलाह दी कि फ़ाइनल पूरी तरह से मज़े लेकर खेलना चाहिए. उन्होंने ये भी कहा कि सेमीफ़ाइनल में भारत और पाकिस्तान की टीमें अपनी क्षमता के हिसाब से नहीं खेलीं. लेकिन उम्मीद है श्रीलंका भारत को पाकिस्तान की तुलना में कड़ी चुनौती पेश करेगा.

दो बार की विश्व विजेता वेस्ट इंडीज़ टीम के कप्तान क्लाइव लॉयड ने भी भारत को ख़िताब का दावेदार बताया.

लॉयड ने कहा, "फ़ाइनल में जो टीम दबाव को बेहतर तरीके से झेल लेगी उसकी जीत होगी और यहां पलड़ा भारत की तरफ़ झुका है."

Image caption कपिल और इमरान दोनों ही भारत का पलड़ा भारी मानते हैं.

1983 की विश्व कप विजेता भारतीय टीम के कप्तान कपिल देव कहते हैं, "भारत और पाकिस्तान की टीमें सेमीफ़ाइनल में अपनी पूरी क्षमता से नहीं खेलीं. मुझे उम्मीद है कि फ़ाइनल में ऐसा नहीं होगा और ज़बरदस्त टक्कर होगी. श्रीलंका की पूरी टीम ख़तरनाक है. लेकिन भारतीय टीम ने गेम का पूरा मज़ा लिया तो जीत भारत की ही होगी."

1996 की विजेता श्रीलंकाई टीम के कप्तान अर्जुन रणतुंगा का दिल श्रीलंका के साथ है. लेकिन वो कहते हैं, "दोनों टीमों की ताकत एक जैसी है. दोनों ही स्पिनर्स पर निर्भर करती हैं. भारत के सचिन तेंदुलकर बेहतरीन खेल रहे हैं, तो श्रीलंका की ओर से दिलशान और संगकारा फॉर्म में हैं. मुझे लगता है मुक़ाबला बराबरी का रहेगा."

हां, 1987 की विश्व कप विजेता ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान एलन बॉर्डर की राय इन खिलाड़ियों से थोड़ी जुदा है.

बॉर्डर कहते हैं, "मुझे लगता है बाज़ी श्रीलंका के हाथ रहेगी. दोनों ही टीमें बराबरी की हैं लेकिन मैं समझता हूं कि श्रीलंका की जीत होगी."

संबंधित समाचार