सचिन का शतक भी काम न आया

सचिन और रायडू इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सचिन और रायडू के बीच 116 रनों की अच्छी साझेदारी रही

सचिन तेंदुलकर का 66 गेंदों पर बनाया गया तूफानी नाबाद शतक भी मुंबई इंडियंस को बचा न सका.

पहले ब्रेंडन मैकुलम की 81 रन और रवीन्द्र जडेजा के 19वे ओवर की आखिरी 2 गेंदों पर लगाए गए छक्कों की बदौलत कोच्चि की टीम ने मुंबई इंडियंस को आठ विकेट से हरा दिया.

सचिन तेंदुलकर का यह आईपीएल में पहला शतक है. उन्होंने 12 चौकों के अलावा तीन छक्के भी लगाए.

सचिन के शतक और अंबाती रायडू के शानदार 53 रनों की मदद से मुंबई इ‍ंडियंस ने 20 ओवरों में दो विकेट के नुकसान पर 182 रन बनाए थे.

जवाब में कोच्चि ने 19 ओवरों में दो विकेट खोकर 184 रन बना लिए.

कोच्चि के लिए महेला जयवर्धने ने भी 56 रनों की पारी खेली.

इस मैच में सचिन और रायडू के बीच दूसरे विकेट के लिए 68 गेंदों पर 116 रनों की अच्छी साझेदारी रही. रायडू 20वें ओवर में आउट हुए.

कोलकाता नाइट राइडर्स ने रॉयल्स को रौंदा

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption गौतम गंभीर की टीम ने लगातार दूसरी जीत दर्ज की है

इससे पहले आईपीएल के एक और मैच में कप्तान गौतम गंभीर के ताबड़तोड़ अर्धशतक और अनुभवी जैक्स कैलिस के साथ उनकी शतकीय साझेदारी के दम पर कोलकाता नाइट राइडर्स ने राजस्थान रॉयल्स को नौ विकेट से रौंदकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की.

गौतम गंभीर ने 44 गेंदों में एक छक्के और 11 चौकों की मदद से नाबाद 75 रन बनाये जबकि कैलिस ने नाबाद 80 रन बनाए. यह आईपीएल-4 में उनका लगातार तीसरा अर्धशतक था.

इन दोनों बल्लेबाज़ों ने दूसरे विकेट के लिए 17.1 ओवर में 152 रन की साझेदारी की, जिसकी बदौलत कोलकाता की टीम ने 160 रन के लक्ष्य को नौ गेंद शेष रहते हुए एक विकेट गँवाकर हासिल कर लिया.

इससे पहले राजस्थान रॉयल्स की टीम ने रोस टेलर के नाबाद 35 रनों और राहुल द्रविड़ के 35 रनों की पारियों की मदद से चार विकेट पर 159 रन का स्कोर खड़ा किया था.

कोलकाता नाइट राइडर्स की तीन मैचों में यह लगातार दूसरी जीत है जबकि रॉयल्स को इतने ही मैचों में पहली बार हार का सामना करना पड़ा.

संबंधित समाचार