सिर्फ़ ब्रिटेन में घूमेगी ओलंपिक मशाल

ओलंपिक मशाल इमेज कॉपीरइट BBC World Service

लंदन में अगले साल होनेवाले ओलंपिक की मशाल यात्रा के मार्ग की घोषणा कर दी गई है.

इस बार ये मशाल केवल मेज़बान देश यानी ब्रिटेन में ही घुमाई जाएगी.

बीजिंग में 2008 में हुए अंतिम ओलंपिक की मशाल यात्रा के दौरान कई देशों में बाधा डालने की कोशिश की गई थी.

इसे देखते हुए ही ओलंपिक आयोजकों ने मशाल को दूसरे देशों में घुमाने का फ़ैसला बदल दिया.

लंदन ओलंपिक की मशाल ब्रिटेन में 1300 किलोमीटर की यात्रा करेगी और आठ हज़ार लोग इसे लेकर दौड़ेंगे.

यात्रा ओलंपिक खेलों के जन्मस्थल ग्रीस से लाए जाने के एक दिन बाद शनिवार 19 मई 2012 को शुरू होगी.

यात्रा

70 दिनों की यात्रा के दौरान मशाल ब्रिस्टल, कार्डिफ़, लिवरपूल, बेलफ़ास्ट, ग्लास्गो, ऐबरडीन, न्यूकासल, मैनचेस्टर, शेफ़ील्ड, नॉटिंघम, ऑक्सफ़ोर्ड, साउथैम्पटन और डोवर शहरों में जाएगी.

मशाल लेकर हर रोज़ कोई 12 घंटे की यात्रा की जाएगी.

अंततः 27 जुलाई 2012 को मशाल लंदन के ओलंपिक स्टेडियम आएगी जहाँ खेलों का शुभारंभ होगा.

ओलंपिक मशाल की परंपरा प्राचीन ग्रीस से शुरू हुई थी जहाँ संदेशवाहकों को मशाल लेकर प्रतियोगिता के समय की जानकारी देने के लिए भेजा जाता था.

साथ ही इसके माध्यम से खेलों के दौरान युद्ध स्थगित रखने की भी अपील की जाती थी.

संबंधित समाचार