'पाकिस्तान के लिए खेलना प्रताड़ना'

मिसबाहुल हक़

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान मिसबाहुल हक़ ने कहा है कि लगातार होते विवादों के कारण पाकिस्तान के लिए खेलना 'मानसिक प्रताड़ना' बनकर रह गया है.

मिसाबाहुल हक़ ने ये बातें पाकिस्तान के एक टीवी चैनल के साथ इंटरव्यू के दौरान कहीं.

पिछले साल अक्तूबर में जब स्पॉट फ़िक्सिंग में फँसने के कारण जब सलमान बट से टेस्ट की कप्तानी छीनी गई, उसके बाद मिसबाहुल को कमान सौंपी गई.

लेकिन उसके बाद से पाकिस्तानी टीम को लेकर कई तरह के विवाद उठे और इस कारण पाकिस्तान क्रिकेट प्रभावित हुआ.

पाबंदी

सलमान बट, मोहम्मद आसिफ़ और मोहम्मद आमिर को स्पॉट फ़िक्सिंग का दोषी पाया गया और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने उन पर पाबंदी भी लगाई.

स्पॉट फ़िक्सिंग प्रकरण के कारण पहले से ही हिले पाकिस्तानी क्रिकेट में उस समय नया विवाद खड़ा हुआ, जब पाकिस्तानी क्रिकेट बोर्ड से मतभेद के कारण वनडे टीम के कप्तान शाहिद अफ़रीदी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी.

एक इंटरव्यू के दौरान मिसबाहुल ने कहा, "इन सब चीज़ों से गुज़रना मानसिक प्रताड़ना होती है और इससे आपका प्रदर्शन प्रभावित होता है. ये पाकिस्तानी क्रिकेट के लिए बहुत बुरा है. लोग घर या बाहर, हमारी खिल्ली उड़ाते हैं."

शाहिद अफ़रीदी के संन्यास के बाद मिसबाहुल को वनडे टीम की भी ज़िम्मेदारी दे दी गई है. मिसबाहुल ने कहा कि खिलाड़ियों को एक यूनियन की आवश्यकता है, ताकि उन्हें शिक्षित किया जा सके, वे कोच से हर मसले पर बात करें और अनुबंध को लेकर विवाद को ख़त्म किया जा सके.

संबंधित समाचार