धोनी ने कहा सहवाग की कमी खलेगी

महेंद्र सिंह धोनी इमेज कॉपीरइट ALLSPORT Getty Images

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा है कि इंग्लैंड के ख़िलाफ़ पहले दो टेस्ट मैचों में विरेंदर सहवाग की कमी खलेगी क्योंकि सहवाग किसी भी मैच के नतीजे को प्रभावित कर सकते हैं.

विरेंदर सहवाग इंग्लैंड पहुंची 17 सदस्यीय भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा हैं लेकिन वो इस समय अपने दाएं कंधे के ऑपरेशन के बाद स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं. सहवाग की ग़ैर मौजूदगी में गौतम गंभीर के साथ अभिनव मुकुंद टीम ओपनिंग करने उतरेंगे.

शुक्रवार से शुरू हो रहे इंग्लिश काउंटी सोमरसेट के ख़िलाफ़ तीन दिनों के मैच से पहले धोनी ने कहा, "हमारी टीम कुछ हद तक सलामी बल्लेबाज़ों पर निर्भर रहती है. बढ़िया शुरूआत से मिडल ऑर्डर को फ़ायदा होता है. विश्व क्रिकेट में ऐसे खिलाड़ी कम हैं जो सहवाग की तरह किसी मैच के नतीजे पर असर डाल सकते हों. हमें उनकी कमी खलेगी."

भारत और इंग्लैंड बीच चार मैचों की टेस्ट सीरिज़ का पहला मैच लॉर्ड्स के मैदान पर 21 जुलाई को शुरू होगा. ये टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का 2000वां मैच होगा.

'भारत को हरा सकते हैं'

धोनी ने अपनी विरोधी टीम इंग्लैंड के बारे में कहा, "इंग्लैंड के पास एक अच्छी टीम है और ये टीम नियमित रूप से बहुत सारे रन बनाती आ रही है. वे गेंदबाज़ी में भी 20 विकेट लेने की क्षमता रखते हैं. हमें अपनी पूरी कोशिश करनी होगी."

उधर गुरुवार शाम इंग्लैंड के कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने सचिन तेंदुलकर की तारीफ़ों के पुल बांधे.

एंड्रयू स्ट्रॉस ने कहा, "वे तकनीकी तौर पर बहुत मज़बूत हैं और दिमागी तौर पर भी. वो दबाव का सामना बढ़िया तरीके से करते हैं. साथ ही वे बहुत ही विनम्र हैं. सचिन इस बात का उदाहरण हैं कि अगर आपमें रन बनाने की भूख है तो उम्र के साथ इसमें कमी नहीं आ सकती."

भारत-इंग्लैंड टेस्ट श्रृंखला
पहला टेस्ट मैच 21 जुलाई लॉर्ड्स, लंदन
दूसरा टेस्ट मैच 29 जुलाई ट्रेंट ब्रिज, नॉटिंघम
तीसरा टेस्ट मैच 10 अगस्त एजबेस्टन, बर्मिंघम
चौथा टेस्ट मैच 18 अगस्त केनिंगटन ओवल, लंदन

इंग्लैंड के इस दौरे पर सचिन तेंदुलकर को वनडे और टेस्ट क्रिकेट में मिलाकर सौ शतक पूरे करने की उम्मीद होगी.

इंग्लैंड के कप्तान ने भारतीय टीम के हालिया रिकॉर्ड का संज्ञान तो लिया लेकिन ये भी कहा कि उनकी टीम टेस्ट रैंकिंग में नंबर टीम को हरा सकती है.

स्ट्रॉस ने कहा, "भारतीय टीम बहुत अधिक क्रिकेट खेल रही है. उन्हें हराना आसान नहीं. अगले पांच हफ़्तों में बढ़िया टेस्ट क्रिकेट खेली जाएगी. हम इस बात को लेकर उत्साहित हैं कि अगर हमने बेहतरीन टीम को हरा दिया तो हम सबसे बेहतरीन हो जाएंगे. हम घरेलू परिस्थितियों में किसी भी टीम को हरा सकते हैं और भारत इसका अपवाद नहीं है."

संबंधित समाचार