'फ़्लेचर के हाथ में है चाबी'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

वीवीएस लक्ष्मण ने कहा है इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टेस्ट सीरिज़ में जीत हासिल करने में कोच डंकन फ़्लेचर की अहम भूमिका होगी.

फ़्लेचर ने इसी साल विश्व कप के बाद भारतीय टीम के कोच की ज़िम्मेदारी संभाली है और लक्ष्मण का कहना है कि वेस्ट इंडीज़ के दौरे पर उन्हें फ़्लेचर के साथ काम करने का काफ़ी फ़ायदा हुआ.

फ़्लेचर आठ साल तक इंग्लैंड के कोच रहे हैं और उन्होंने 2005 की ऐशेज़ श्रृंखला में इंग्लैंड को ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ जीत दिलाई थी.

लक्ष्मण ने उम्मीद ज़ाहिर की है कि भारतीय टीम को फ़्लेचर से इंग्लैंड की ज़मीन पर इंग्लैंड को हराने के लिए कई गुर सीखने को मिलेंगे.

लक्ष्मण का कहना था, “एक कोच के तौर पर लॉर्ड्स टेस्ट फ़्लेचर का 100वां टेस्ट होगा जो अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है. ये हमारा सौभाग्य है कि वो हमारे साथ हैं क्योंकि वो एक बेहद अनुभवी और परिपक्व व्यक्ति हैं.”

लक्ष्मण ने कहा कि जब उनकी टीम इंग्लैंड के ख़िलाफ़ उतरेगी तो उनकी सोच में टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक की पदवी को बचाने की बात शायद ही कहीं हो.

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption लॉर्ड्स टेस्ट एक कोच की तौर पर फ़्लेचर का सौवां टेस्ट होगा.

उनका कहना था, “हम बस हर मैच को जीतने की कोशिश करेंगे. रैंकिंग जैसी चीज़ों पर हमारा ध्यान नहीं होगा.”

वार्न की भविष्यवाणी

टेस्ट मैच के पहले एकमात्र अभ्यास मैच में सोमरसेट के ख़िलाफ़ भारत का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा है.गेंदबाज़ और बल्लेबाज़ दोनों ही बेहद साधारण नज़र आए हैं.

इसलिए भी क्योंकि इस अभ्यास मैच से ठीक पहले लक्ष्मण, जो इस मैच में नहीं खेल पाए, ने इंग्लैंड की ज़मीन पर उसे हरा पाने का विश्वास जताया था.

वहीं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों में गिन जानेवाले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी शेन वॉर्न ने भविष्यवाणी की है कि इंग्लैंड की टीम भारत को 1-0 से हरा पाने में कामयाब रहेगी.

उन्होंने कहा है कि इंग्लैंड की टीम में विविधता है, उनके पास अच्छे गेंदबाज़ और बल्लेबाज़ है.

Image caption शेन वार्न पहले भी सटीक भविष्यवाणियां कर चुके हैं.

वार्न का कहना था, “ जीत हासिल करने के लिए इंग्लैंड को आक्रामक खेल खेलना होगा.”

वॉर्न ने इसके पहले भी टीमों की ताक़त और कमज़ोरियों के आधार पर भविष्यवाणियां की हैं और वो सही साबित हुई हैं.

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी कहा है कि इंग्लैंड की टीम में केविन पीटरसन की आक्रामक बल्लेबाज़ी की अहम भूमिका होगी.

उनका कहना था, “उनका टेस्ट फ़ॉर्म मेरे लिए बहुत चिंता की बात नहीं है. भारत के लिए इस अहम श्रृंखला में भारी भीड़ जुटेगी और वहां उनका प्रदर्शन ज़रूर अच्छा होगा.”

वार्न ने कहा है कि इंग्लैंड में गेंदबाज़ी और बल्लेबाज़ी का संतुलन बेहद अच्छा है और यदि वो एक तीसरा तेज़ गेंदबाज़ ले आएं तो उनकी टीम में कोई कमज़ोर कड़ी नहीं नज़र आएगी.

इंग्लैंड के ख़िलाफ़ चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला 21 जुलाई से शुरू हो रही है.

संबंधित समाचार