प्रवीण कुमार पर जुर्माना

प्रवीण कुमार और इसास्मस के बीच बहस इमेज कॉपीरइट BBC World Service

आईसीसी ने भारत के तेज़ गेंदबाज़ प्रवीण कुमार पर अम्पायर के फैसले का विरोध जताने के लिए मैच फ़ीस का 20 प्रतिशत जुर्माना लगाया है.

ट्रेंट ब्रिज मैदान पर भारत और इंग्लैंड के बीच जारी दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन इंग्लैंड की पारी के दौरान प्रवीण कुमार ने अम्पायर के फ़ैसले पर विरोध जताया था.

आईसीसी ने एक बयान जारी कर कहा है कि उन्हें आचार संहिता की धारा 2.1.3 के उल्लंघन का दोषी पाया गया.

हाँलाकि दिन का खेल ख़त्म होने के बाद मैच रेफ़री रंजन मदुगले के सामने प्रवीण कुमार ने अपनी ग़लती मान ली.

मामला

दरअसल यह घटना इंग्लैंड की पारी के 18वें ओवर की समाप्ति पर हुई जब प्रवीण ने इंग्लैंड बल्लेबाज़ केविन पीटरसन के ख़िलाफ़ पगबाधा की अपील की थी लेकिन अम्पायर ने इसे नकार दिया था.

ओवर खत्म होने के बाद प्रवीण उस अपील पर उनसे बहस करने अंपायर के पास पहुंच गए थे.

बात इतनी बिगड़ गई थी कि हरभजन ने आकर प्रवीण को अंपायर से दूर किया.

इसके बाद फ़ील्ड अम्पायर असद रऊफ़, मराइस इरास्मस, थर्ड अम्पायर बिली बाउडेन और चौथे अम्पायर टिम रॉबिन्सन ने प्रवीण की शिकायत मैच रेफरी से की थी.

आईसीसी ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए प्रवीण कुमार पर कार्रवाई की है.

संबंधित समाचार