विवादित मैच में 374 की बढ़त

इमेज कॉपीरइट PA

ट्रेंट ब्रिज में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन का खेल ख़त्म होने पर इंग्लैंड ने दूसरी पारी में अच्छा ख़ासा स्कोर खड़ा कर लिया है.

तीसरे दिन इंग्लैंड का स्कोर था छह विकेट के नुकसान पर 441 रन. यानी भारत पर कुल 374 रनों की बढ़त. इसमें सबसे बड़ा योगदान रहा इयन बेल के 159 रनों का.

भारत-इंग्लैंड सिरीज़ पर विशेष

लेकिन खेल के दौरान बड़ा नाटकीय मोड़ देखने के मिला जब पहले तो इयन बेल को विवादित रूप से आउट करार दे दिया गया लेकिन बाद में भारतीय कप्तान की सहमति के बाद उन्हें वापस क्रीज़ पर बुला लिया गया.

तीसरे दिन की खेल की शुरुआत में इंग्लैंड की ओर से एंड्रयू स्ट्रॉस और इयन बेल ने एक विकेट के नुकसान पर 24 रन के स्कोर से आगे खेलना शुरु किया.

स्ट्रॉस तो मात्र 16 रन बनाकर श्रीसंत की गेंद पर आउट हो गए लेकिन इसके बाद इयन बेल और केविन पीटरसन के बीच अच्छी साझेदारी हुई. पीटरसन ने 98 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया तो बेल ने 129 गेंदों में शतक जड़ डाला.

पहले आउट, फिर फ़ैसला पलटा

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption इयन बेल को लेकर विचर विमर्श करते अंपायर

63 के स्कोर पर श्रीसंत ने पीटरसन को अपना शिकार बनाया. उनकी जगह आए मॉर्गन ने भी बेल के साथ अच्छी साझेदारी की.

लेकिन चायकाल से पहले आख़िरी गेंद पर मैच में अजब किस्सा देखने को मिला. ईशांत शर्मा की गेंद पर मॉर्गन ने शॉट लगाया. फ़ील्डर प्रवीण कुमार उसे चौका समझकर गेंद की ओर भागे पर गेंद बाउंडरी तक पहुँची नहीं.

वहीं दूसरे छोर पर खड़े इयन बेल को लगा कि चायकाल हो गया है और वे ड्रेसिंग रूम को ओर चल पड़े. इस बीच भारतीय गेंदबाज़ों ने गेंद वापस फेंकी, गिल्लियाँ उड़ा दीं और रन आउट की अपील की.

मैदान पर मौजूद अंपायरों और तीसरे अंपायर के बीच बातचीत के बाद बेल को 137 रन पर आउट करार दे दिया गया.

इस फ़ैसले को लेकर समर्थकों में ख़ासी नाराज़गी देखी गई. बीबीसी संवाददाता का कहना है कि चायकाल के दौरान इंग्लैंड के कप्तान स्ट्रॉस और कोच एंडी फ़लार भारतीय ड्रेसिंग रूम में गए और रन आउट की अपील पर पुनर्विचार करने के लिए कहा.

इसके बाद भारतीय कप्तान धोनी ने अपील वापस ले ली. बेल क्रीज़ पर दोबारा वापस आए और अंतत युवराज सिंह की गेंद पर 159 पर आउट हुए. मॉर्गन भी इसके बाद 70 पर आउट हो गए.

बाद में इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने एक बयान जारी कर भारतीय टीम का शुक्रिया अदा किया.

इस बीच इंग्लैंड के बल्लेबाज़ों की रन बनाने की रफ़्तार धीमी नहीं पड़ी जबकि भारतीय गेंदबाज़ उतने दमदार नहीं लगे. दिन का खेल ख़त्म होने पर मैट प्रायर 64 और टिम ब्रेसनन 47 पर खेल रहे थे. अभी इंग्लैंड के चार विकेट बाकी हैं.

चौथे दिन इंग्लैंड की टीम स्कोर में और इजाफ़ा कर भारत के सामने बड़ी चुनौती रखने की कोशिश करेगी. इंग्लैंड इस सिरीज़ में 1-0 से आगे है.

संबंधित समाचार